स्वर्ण स्वर भारत एंथम पर सुरेश वाडकर, कैलाश खेर, कुमार विश्वास और रवि किशन ने रखे अपने विचार

भारत हज़ारों साल से अपने सांस्कृतिक महत्व के साथ गहरी परंपराओं और मूल्यों की भूमि के रूप में दुनिया भर में जाना जाता है। ऐसे में कई पीढ़ियों सेगाए जाने वाले गानों के माध्यम से इन संस्कृतियों को लम्बे

author-image
By NewsOnFloor
New Update
स्वर्ण स्वर भारत एंथम पर सुरेश वाडकर, कैलाश खेर, कुमार विश्वास और रवि किशन ने रखे अपने विचार

भारत हज़ारों साल से अपने सांस्कृतिक महत्व के साथ गहरी परंपराओं और मूल्यों की भूमि के रूप में दुनिया भर में जाना जाता है। ऐसे में कई पीढ़ियों सेगाए जाने वाले गानों के माध्यम से  इन संस्कृतियों को लम्बे समय से संजोया गया है। इस परंपरा को बनाए रखने और इसे नई पीढ़ी तक पहुंचाने केलिए भक्ति गाथाओं की दुनिया में दिग्गज, पद्म श्री सुरेश वाडकर, रवि किशन, पद्म श्री कैलाश खेर और डॉ कुमार विश्वास 'स्वर्ण स्वर भारत' के साथआए हैं |

बता दें कि स्वर्ण स्वर भारत एक स्पिरिचुअल नैरेटिव म्यूजिक रियलिटी शो है, जहां टैलेंटेड म्यूजिशियन अपनी भक्ति को भावपूर्ण भजनों के रूप मेंप्रदर्शित करते हैं, और वह भी डॉ कुमार विश्वास द्वारा सुनाई गई हमारे आध्यात्मिक ग्रंथों की प्राचीन कहानियों के साथ। एक्टर रवि किशन, देव ऋषिनारद मुनि के किरदार को दीखाने वाले करने वाले शो को आकर्षक रूप से होस्ट करते हैं।

'हर हर में, घर घर में' ये शो का आधिकारिक एंथम है जो चार सदस्यों के बीच हुए शानदार सहयोग को दर्शाता है और शो के वास्तविक सार को भीसबसे सही और वास्तविक तरीके से पेश करता है

देश की आध्यात्मिक और धार्मिक संस्कृति का सम्मान करते हुए, यह एंथम उस भारत देश को शानदार ढंग से दर्शाता है जो हमारी संस्कृति का एकप्राचीन हिस्सा रहा है। यह गीत न केवल युवा पीढ़ी से हमारे देश की समृद्ध और सुंदर जड़ों से जुड़ने की अपील करता है, बल्कि उन्हें सही रास्ते पर चलनेका भी आग्रह करता है जो उन्हें बहुतायत यानी भक्ति की ओर ले जाने में सफल होगा। भारत के कुछ सबसे पवित्र मंदिरों और महान गुरुओं को प्रदर्शितकरते हुए यह संगीत वीडियो आज के समय में विश्वास के कुछ सबसे मजबूत स्तंभों को प्रदर्शित करता है, जबकि सभी को फिलहाल इसकी सबसेअधिक आवश्यकता है।

यह संगीत व्हिडिओ शो के चार मुख्य सदस्यों द्वारा गाया गया जिसमे इस गीत को कैलाश खेर द्वारा रचित और लिखा गया है। एंथम का निर्माण संगीतलेबल फैथॉम पिक्चर्स के तहत किया गया है

इस बारे में सुरेश वाडकर कहते हैं, “स्वर्ण स्वर भारत एंथम को खूबसूरती से बनाया गया है। कैलाश खेर जी ने इसे बेबाकी से लिखा है और इतनी अच्छीधुन बनाई है कि इसे गुनगुनाने से कोई खुद को रोक नहीं सकता। कुल मिलाकर, गीत एक गुलदस्ता है जिसमें एक रंगीन भारत और भक्ति की सुंदरभावनाएँ शामिल हैं। ”

कैलाश खेर कहते हैं, "बहुत कम गाने ऐसे होते हैं जो सिर्फ एंटरटेनमेंट के दायरे से परे होते हैं और आत्मबोध तक पहुंचते हैं। एसएसबी एंथम ऐसा ही एकगाना है। यह असल और गहरी भावनाओं को दर्शाता है, जो एक व्यक्ति तब महसूस करता है, जब वह अपनी इमोशनल पर सेल्फ रिफ्लेक्शन करता है।"

वहीं, कुमार विश्वास कहते हैं, “SSB एंथम भारत के अतीत, वर्तमान और भविष्य को दर्शाता है। यह न केवल देश की संस्कृति के बारे में बात करता हैबल्कि यह व्यक्त करता है कि देश कैसे कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़ रहा है। कैलाश खेर जी ने इस गाने को बनाने में शानदार काम किया है।”

जबकि इस बारे में आगे बात करते हुए रवि किशन कहते हैं, “ऐसे बहुत भक्ति गीत हैं जो एक ऐसे भारत को दर्शाती हैं जिसका हमने सपना देखा था औरकेवल बचपन की कहानियों में सुना था। 'हर हर में, घर घर में' इसे अद्भुत ढंग से सामने लाया गया है और मैं इस एंथम का हिस्सा बनकर असल में धन्यमहसूस करता हूं। मुझे पता है कि यह एंथम आने वाले वर्षों तक सभी को याद रहेगा और यह मेरा सौभाग्य था कि मुझे इसका हिस्सा बनने का मौकामिला।

Latest Stories