हवन यज्ञ के बाद संगीतमय श्री राम कथा का समापन

जसपुर। पहली बार हो रही संगीतमय श्री राम कथा के आखरी दिन राम कथा को सुनने को श्रद्वालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। हवन यज्ञ के बाद राम कथा का समापन कर दिया गया।
सोमवार को कोतवाली के सामने धर्मशाला में संगीतमय श्रीराम कथा के समापन के मौके पर हवन यज्ञ कराया गया। रामकथा में पुरुषों की अपेक्षा महिला श्रद्घालुओं की भीड़ अधिक रही। कथा व्यास मनोज महाराज (सहारनपुर वाले) ने राम के आर्दशों पर चलने की बात कही। कहा कि भक्ति में ही शक्ति है। भक्त से ही भगवान प्रसन्न होते है। कहा कि रामकथा सुनने भर से पापों का अंत हो जाता है। कथा के बीच बीच में संगीतमय प्रसंगों को सुनकर श्रद्घालु झूम उठे। कथा के अंत में प्रसाद का वितरण किया।  मौके पर त्रिलोक अरोरा, हरिओम सिंह, सतीश अरोरा, महेंद्र अरोरा, अरविंद कुमार, राजू, अवलोक सिंघल,अतुल बंसल, हरीश अरोरा, सतीश ग्रोवर,आशा, गरिमा अरोरा, सोहन देवी,रचना आदि मौजूद रहे। 


Source : upuklive

Leave a Comment