जालसाजों के बैंक खातों पर लगी रोक

ठाकुरद्वारा। प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक की दूल्हापुर शाखा से खाताधारकों की करीब बयालीस लाख रुपये की रकम को नौ लोगों के खातों में अलग-अलग बैंकों की शाखाओं में आरटीजीएस किया गया है। इन जालसाजों के खातों से निकासी पर बैंकों ने रोक लगा दी है। उनके खातों में जमा रकम वापस ब्रांच को मिलने की उम्मीद है।
दूल्हापुर ब्रांच में घोटाले की जांच में स्थानीय ग्राहकों की रकम को नीरज सैनी के पीएनबी किरतपुर बिजनौर, अंकुर सहगल एवं रजत बब्बार के आईसीआईसीआई बैंक शाखा रोहिणी नई दिल्ली, कमल के ओबीस पंजाब शाखा जगजीत नगर जुबार हिमाचल प्रदेश, मैसर्स राजकृपा ट्रेडर्स के बंधक बैंक शाखा काशी बाजार छपरा बिहार, अर्पित वर्मा के एक्सिस बैंक सिविल लाइन नजीबाबाद बिजनौर, राजेंद्र के आईसीआईसीआई बैंक पोवई मुंबई, सुभाष वर्मा के एसबीआई शाखा बैराज रोड बिजनौर, जसवंत सिंह के यूको बैंक शाखा कटरा मेन बाजार जम्मू कश्मीर के खाते आरटीजीएस के माध्यम से स्थानांतरित किया गया है।
प्रथमा बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक हुकुम सिंह के अनुसार पुलिस में दर्ज मुकदमे में संबंधित खाताधारकों को भी मुल्जिम बनाया गया है, लिहाजा बैंकों के स्तर से सभी खातों की निकासी पर रोक लगा दी गई है। इसके साथ ही खातों जमा रकम को वापस दूल्हापुर ब्रांच भेजने की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। रकम वापस ब्रांच में आते ही खाताधारकों को निकासी कर दी जाएगी। 

Related News

Leave a Comment