अल्ट्रासाउंड सेंटर पर छापे में मिली अनियमितताएं

ठाकुरद्वारा/मुरादाबाद। उप जिलाधिकारी के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने नगर के डायग्नोस्टिक सेंटरों की आकस्मिक जांच की गई तो एक सेंटर पर नियम विरुद्ध गर्भवती महिला का अल्ट्रासाउंड करते पकड़ा गया। जबकि दो सेंटरों पर टीम के पहुंचने से पहले ही ताला लटक गया। बाकी दो सेंटर को टीम ने नियमानुसार सही चलते हुए पाया।

नगर में डायग्नोस्टिक सेंटर पर नियम विरुद्ध अल्ट्रासाउंड करने की शिकायतों के बाद जिलाधिकारी के आदेश पर एसडीएम डॉ अजय कुमार एवं चिकित्सा अधीक्षक डॉ नितिन आनंद पंत ने संयुक्त रूप से टीम बनाकर डायग्नोस्टिक सेंटर का आकस्मिक निरीक्षण किया। चिकित्सा अधीक्षक के अनुसार नगलिया मोड़ स्थित भारत डायग्नोस्टिक सेंटर पर मरीजों की पिछले कई दिन से रजिस्ट्री में एंट्री नहीं की गई थी और ना ही फीस रजिस्टर में कोई फीस दर्ज थी। उस वक्त गर्भवती महिला रूबी का अल्ट्रासाउंड किया जा रहा था।

अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट के साथ डॉक्टर का रेफरेंस लेटर भी संलग्न नहीं था और मशीन भी सीएमओ कार्यालय में रजिस्टर्ड नहीं मिली। अल्ट्रासाउंड सेंटर पर प्रशिक्षित डॉक्टर भी मौजूद नहीं था। मरीज का अल्ट्रासाउंड समय रिपोर्ट बनाकर जिला मुख्यालय बढ़ती जाएगी। उसके पास नमरा डायग्नोस्टिक सेंटर और हरिओम डायग्नोस्टिक सेंटर पर ताला लगा मिला। संभवतः टीम की कार्रवाई की भनक लगते ही डायग्नोस्टिक सेंटर संचालक ताला लगाकर गायब हो गए। इसके बाद टीम ने जसपुर रोड स्थित जोहरी अल्ट्रासाउंड सेंटर और तिकोनिया बस स्टैंड स्थित जीवन ज्योति नर्सिंग होम का भी निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि दोनों स्थानों पर अल्ट्रासाउंड सेंटर नियम अनुसार चलते मिले। जांच रिपोर्ट मुख्यालय को भेजी जाएगी।

अल्ट्रासाउंड सेंटर के नियम
अल्ट्रासाउंड केंद्र का चिकित्सा विभाग में पंजीयन होना चाहिए।
रेडियोलॉजिस्ट के पास एमडी की डिग्री होना चाहिए।
एमबीबीएस के लिए सोनोग्राफी इमेज स्कैनिंग की ट्रेनिंग होना चाहिए।
गर्भवती के अल्ट्रासाउंड के लिए एक्सपीरियंस्ड गायनोकोलॉजिस्ट होना चाहिए
अल्ट्रासाउंड केंद्र पर कार्यरत वर्कर का सीएमओ कार्यालय में पंजीयन होना चाहिए
अल्ट्रासाउंड मशीन का सीएमओ कार्यालय में रजिस्ट्रेशन होना चाहिए
अल्ट्रासाउंड केंद्र के बाहर भ्रूण लिंग परीक्षण नहीं करने का नोटिस चस्पा होना चाहिए
प्रशिक्षित डॉक्टर के रेफरेंस लेटर पर ही अल्ट्रासाउंड की सुविधा देना चाहिए
गर्भवती अल्ट्रासाउंड से पूर्व पहचान पत्र लेने के साथ ही सूचना सीएमओ कार्यालय को देना चाहिए

Related News

Leave a Comment