द्वापर युग के समय में कृष्ण भगवान और सुदामा के बीच में मित्रता बनी एक मिसाल

अज़हर मलिक, काशीपुर। दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जिसमें एक दोस्त दूसरे दोस्त के लिए मर मिटने के लिए तैयार हो जाता है। यही कारण है कि अपनी कोई भी समस्या घर पर बताने से पहले अपने दोस्त को बताता है। इसी के चलते आज पूरे विश्व में मित्रता दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। वहीं पुराणों में भी द्वापर युग के समय में कृष्ण भगवान और सुदामा के बीच में एक मित्रता मिसाल बनी हुई है।

रविवार को दुनियाभर में मनाया जाने वाला फ्रैंडशिप डे धूमधाम से मनाया जा रहा है। जिसके चलते काशीपुर के बाजार में दोस्ती के पर्व के रंग देखने को मिल रहा हैं। युवाओं ने दोस्तों के लिए उपहार खरीदने भी शुरू कर दिए हैं। शहर के एक कोने से दूसरे कोने तक हर मार्केट में आपको दोस्ती के उपहार मौजूद मिलेंगे और हर कोई दोस्ती के इस पर्व में अपने दोस्त को सबसे सुंदर तौहफा देना चाहता यही वजह है कि बाजारों में सुबह से ही ​गिफ्ट शॉप्स पर भीड़ देखने को मिल रही है। 


Source : upuklive

Related News

Leave a Comment