भगवान ने नहीं दी आंखों की रोशनी, इस हुनर से रोशन कर रही संसार...

रायपुर। प्रेरणा नेशनल ब्लाइंड एसोसिएशन की दिव्यांग छात्राएं रूपवर्षा केरकेट्टा और सुमन दीवान को भगवान ने आँखों की रोशनी तो नहीं दी लेकिन सुरों से वे संगीत की ज्योति जला रही हैं। 
उनकी रुहानी आवाज सोशल साइट पर धूम मचा रही है। देशभक्ति, दोस्ती की मिशाल और प्रदेश की सभ्यता-संस्कृति का परिचय देते हुए गीत हर व्यक्ति को भा रहे हैं। सुनते ही सब कह उठते हैं वाह क्या आवाज है। सुरों में जो जादू है उसका कोई मोल नहीं है।

दोनों छात्राओं ने दोस्ती के गीत के साथ शुरुआत की। सात अगस्त को रायपुर के एक निजी स्टूडियो में गाना रिकार्ड हुआ। गाने के बोल हैं-यारा तेरी यारी को मैंने तो खुदा माना...इस गीत ने आते ही यूट्यूब में धूम मचा दी। इसके बाद छात्राओं ने देशभक्ति, छत्तीसगढ़ी गीतों से लोगों का मन मोह लिया।

Related News

Leave a Comment