जेल में बंद इंद्राणी और पीटर मुखर्जी के तलाक को फैमिली कोर्ट की मंजूरी

मुंबई। शीना बोरा हत्या के मामले में जेल में बंद मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी का उनके पति पीटर मुखर्जी से तलाक हो गया है. मुंबई की फैमिली कोर्ट  ने दोनों की आपसी रजामंदी के बाद तलाक को मंजूरी दे दी है. बताया जाता है कि जानवरी 2017 में इंद्राणी मुखर्जी ने पीटर मुखर्जी से तलाक लेने की अर्जी दाखिल की थी.
बताया जाता है कि इंद्राणी मुखर्जी ने अप्रैल में पीटर मुखर्जी को तलाक के लिए नोटिस भेजा था. कोर्ट में मामला आने के बाद सितंबर 2018 में दोनों ने कोर्ट के सामने तलाक के लिए हामी भरी भी. गुरुवार को दोनों पुलिस वैन से कोर्ट पहुंचे थे. मुंबई की फैमिली कोर्ट ने दोनों को सुलह-समझौता करने के लिए छह माह का समय भी दिया था. हालांकि, समय बीतने के बाद भी दोनों ने अलग होने की बात कही. कोर्ट ने दोनों से बात करने के बाद उनके तलाक को मंजूरी दे दी. फैमिली कोर्ट में एडवोकेट सुष्मिता नायर ने पीटर मुखर्जी की पैरवी की.
एडवोकेट सुष्मिता नायर ने बताया कि पीटर मुखर्जी काफी समय से बीमार चल रहे थे, जिसके कारण तलाक की प्रक्रिया को आगे नहीं बढ़ाया जा सका था. पीटर मुखर्जी के दोबारा स्वस्थ होने के बाद उनके तलाक को मंजूरी मिल गई है. पीटर मुखर्जी और इंद्राणी मुखर्जी की शादी साल 2002 में हुई थी. यह पीटर मुखर्जी और इंद्राणी मुखर्जी की दूसरी शादी थी. पीटर मुखर्जी से पहले इंद्राणी मुखर्जी की शादी कोलकाता के संजीव खन्ना के साथ हुई थी.

Related News

Leave a Comment