दहेज उत्पीड़न का केस दर्ज कराने पर शौहर ने फोन पर दिया तीन तलाक

आजमगढ़। ससुराल वालों के उत्पीड़न से परेशान विवाहिता पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराना भारी पड़ गया। रिपोर्ट पंजीकृत होने से नाराज पति ने फोन कर तीन तलाक दे दिया।

पीड़ित ने इसकी शिकायत पुलिस से की लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। मजबूर पीड़िता ने एसपी से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार निजामाबाद थाना क्षेत्र के बड़हरिया निवासी जैनब बानो का आरोप है कि उसकी शादी 15 दिसंबर 2012 को फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के सरैया कला गांव निवासी अरशद से हुई थी। उनके दो बच्चे भी है। शादी के बाद से ही ससुराल पक्ष के लोग बाइक के लिए उसे प्रताड़ित करते थे।

इसी दौरान उसका पति विदेश चला गया लेकिन उसका उत्पीड़न नहीं रूका। पांच साल बाद घर लौटने पर पति ने भी उसका उत्पीड़न शुरू कर दिया। यहां तक कि उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया गया।

इस मामले में उसने 25 जुलाई 2019 को उसने पति मोहम्मद अरशद, मु. यूसुफ, मो. अशहद व कमरूद्दीन के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया।

इससे नाराज पति ने फोन कर उसे तीन तलाक दे दिया जिसे उसने स्वीकार नहीं किया। इसके बाद भी उसके पति तीन सितंबर को दूसरी शादी कर ली। इस संबंध में उसने शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। पीड़ित ने एसपी को प्रार्थना देकर न्याय की गुहार लगाई है।

Related News

Leave a Comment