ससुरालियों पर लगाया दहेज के लिए विवाहिता को मारने का आरोप

जसपुर। विवाहिता की मौत के बाद एसएसपी से मिले परिजनों ने विवाहिता के ससुरालियों पर दहेज उत्पीड़न के लिए पुत्री को मारने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। एसएसपी ने  कोतवाली पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए है।
मोहल्ला पट्टी चैहान निवासी मरहूम इरफान की पत्नी सईदा ने अपनी पुत्री मोबिना की शादी तीन वर्ष पूर्व काशीपुर निवासी एक युवक के साथ हुई थी। विवाहिता को हैसियत के अनुसार दान दहेज भी दिया गया था। लेकिन मोबिना के ससुराली इससे खुश नहीं थे। शादी के कुछ दिन बाद ही पति, सास, ससुर, देवर,विवाहिता को प्रताड़ित करने लगे। तथा दहेज में बाइक एवं पचास हजार रूपये नकद लाने को कहते। विरोध करने पर उससे मारपीट की जाती। कई बार विवाहिता को उसके मायके भी भेज दिया गया। 
पंचायत के समझाने एवं मजबूरी बताने के बाद मोबिना को ससुराल छोड़ा गया। आरोप है कि विवाहिता का देवर उससे बाइक एवं नगदी न देने पर अपने भाई की शादी कहीं ओर कराने एवं उसे मारने की धमकी देता था। इस डर से एवं प्रताणना से विवाहिता बीमार रहने लगी।उसके इलाज में भी लापरवाही बरती गई। अधिक बीमार होने के बाद ससुरालियों ने उसे मायके भेज दिया। तथा दहेज देने की मांग की। बताते है कि  २७ जुलाई को उपचार के दौरान विवाहिता की मौत हो गई। मॉ सईदा ने विवाहिता द्वारा लिखे गए उत्पीड़न पत्र भी एसएसपी को दिखाये। एसएसपी ने पुलिस को जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। कोतवाल उमेद सिंह दानू ने बताया कि एसएसपी के आदेश पर जांच कर मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए गए है।

Related News

Leave a Comment