तमाशबीनों ने ले ली चौकीदार की जान

सुल्तानपुर।  बीते दिनों कस्बे में हुई एक सड़क दुर्घटना में ग्रामीणों की संवेदनहीनता सामने आई है.दुर्घटना के बाद घायल रोड पर तड़प रहे थे लेकिन वहीं घटनास्थल पर खड़े अराजक तत्व मानवता की सारी हदें पार करते हुए घायलों के तड़पने का वीडियो बनाते रहे.सूचना पर जब डायल हंड्रेड की पुलिस पहुंची तब भी वहां खड़े एंड्रॉयड फोन धारक वीडियो बना रहे थे।

किसी ने घायलों को गाड़ी में शिफ्ट करने प्रयास नहीं किया.हाथ लगाने के लिए पुलिस कर्मी याचना करते रहे लेकिन हर कोई मुँह मोड़ लिया। इतना ही नहीं गांव के कुछ छुट भैया नेता अपना चेहरा वीडियो में देखने के लिए आतुर रहे और पुलिस को ड्यूटी करने से रोके रहे.इस संवेदनहीनता ने गांव के चौकीदार की जान ले ली .ग्रामीणों के इस बेहूदा बर्ताव से अधिक खून बह जाने के कारण गांव के चौकीदार हौसला प्रसाद ने दम तोड़ दिया। वहीं बाइक सवार जिंदगी और मौत से अस्पताल में जूझ रहा .

चौकीदार हौसला प्रसाद आज सुबह नौ बजे साइकिल से जैसे ही बिछौरा गांव पहुंचे थे कि तभी बिना हेलमेट लगाए तीव्र गति से आ रहा बाइक सवार युवक उनसे भिड़ गया .साइकिल और बाइक सवार दोनों गंभीर रूप से घायल हुए .कहना अतिशयोक्ति नहीं होगा कि चौकीदार की मौत चोट लगने से कम बल्कि तमाशबीन खड़े ग्रामीणों की संवेदनहीनता से हुई है।  इस बाबत थानाध्यक्ष अशोक पवार ने कहा मामले की पड़ताल की जा रही है। विषय बहुत गंभीर है, इसमें दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई की जाएगी ताकि इस तरीके का अपराध दोबारा करने में लोग सौ बार सोचे।

Related News

Leave a Comment