टिकटॉक वीडियो बनाते समय चली गोली, युवक की मौत

शिरडी। टिक टॉक पर ट्रिक के चक्कर में लोग अपनी जाव तक गंवा रहे हैं। ताजा घटनाक्रम महाराष्ट्र के शिरडी का है। यहां टिक-टॉक की वजह से एक 17 साल के लड़के की मौत हो गई। प्रतीक वाडेकर हाथ में देसी पिस्तौल पकड़कर शिरडी के पवन धाम होटल में मोबाइल ऐप टिक-टॉक पर वीडियो बना रहा था। इसी दौरान पिस्तौल का ट्रिगर दब गया और गोली प्रतीक को जा लगी। इस घटना में मौके पर ही मौत हो गई। गोली की आवाज सुनकर होटल में अफरा-तफरी मच गई।
पुलिस इस मामले की जांच कर रही है कि पीडि़त के पास वो देसी पिस्तौल कहां से आई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। शिरडी पुलिस ने इस घटना के बाद बच्चों के माता-पिता को सावधान किया है कि वो अपने बच्चों को टिक-टॉक ऐप से दूर ही रखें। इससे पहले तमिलनाडु में एक आश्चर्यजनक घटना सामने आई थी, जहां एक 24 साल की महिला ने अपनी पति की डांट से आत्महत्या कर ली थी। 
होटल में प्रतीक के साथ सन्नी पवार, नितिन वाडेकर और 11 वर्षीय एक अन्य दोस्त भी था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि वाडेकर को गोली लगने के बाद अन्य सभी कमरे से फरार हो गए और जब गोली की आवाज सुनकर होटल कर्मचारी आया और उन्हें रोकने की कोशिश की तो उनमें से एक ने गोली चलाने की धमकी दी और फरार हो गया। 

Related Articles

Leave a Comment