यहां तैयार होता है लालकिले पर 15 अगस्त को लहराने वाला तिरंगा...

नई दिल्ली। 15 अगस्त पर लाल किले पर फहराया जाने वाला राष्ट्र ध्वज कर्नाटक के हुबली में तैयार होता है। इसके लिए खादी का कपड़ा बालाकोट जिले के एक गांव के मजदूर बनाते हैं। कर्नाटक खादी ग्रामोद्योग संयुक्त संघ यह तिरंगा बनाता है।

यह देश में ऐसा इकलौता संगठन है, जिसे तिरंगा बनाने के लिए भारत सरकार से लाइसेंस मिला हुआ है। यहां ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड के मुताबिक झंडे तैयार किए जाते हैं। केंद्र और राज्य सरकारों के अलावा निजी संस्थाएं भी जरूरत के हिसाब से ऑर्डर देकर यहीं से तिरंगा मंगाती हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार फेडरेशन के सचिव एचएन एंटिन ने बताया कि फेडरेशन में 126 कर्मचारी सालभर राष्ट्र ध्वज बनाते हैं। इनमें ज्यातादर महिलाएं हैं। ध्वज के लिए खादी बालाकोट के तुलसीगेरी गांव में तैयार की जाती है। इसके बाद फेडरेशन के हुबली सेंटर में तिरंगे की सिलाई होती है। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले पर फहराए जाने वाले तिरंगे का ऑर्डर करीब दो महीने पहले मिल जाता है।


Source : upuklive

Related News

Leave a Comment