दहेज के भूखे पति ने पत्नी को दिया तीन तलाक, पीडि़त मांग रही पुलिस से न्याय

हरदोई। केंद्र सरकार द्वारा मुस्लिम महिलाओं को राहत देते हुए तलाक पर सख्त कानून बनाया। लोगों लेकिन द्वारा लगातार कानून को नहीं माना जा रहा है.इसके चलते आज पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी से मिलने आए ग्राम दिवाली थाना बिलग्राम निवासी पूनम पत्नी नफीस एक मुस्लिम महिला ने पति नफीस पर दहेज की खातिर मारपीट करने व तलाक देने की बात कही उनका कहना है.

जबकि मुस्लिम रीति-रिवाजों 2007 अनुसार में उनकी निगाह हुआ था के। निगाह के समय अपने सामथ्र्य के हिसाब दान दहेज भी दिया गया था। नेहा के 1 साल बीतने के बाद लोगों द्वारा दहेज में मोटरसाइकिल व सोने की चेन की मांग लगातार की जाती रही। मांग पूरी ना होने पर पति द्वारा पत्नी को मारा-पीटा जाता था। इस दौरान उनके तीन बच्चे पैदा हुए जिसमें दो पुत्रियां एक पुत्र उनके पति द्वारा लगातार मारा पीटा जाता रहा है।

मार्च 2019 से उनके पति द्वारा फिर दहेज की मांग की जाती रही मांग पूरी ना होने पर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी गई.जबकि मुश्किल में उन्होंने अपनी जान बचाई इसके बाद पति ने तीन बार तलाक देकर घर से निकाल दिया.महिला द्वारा हंड्रेड डायल पर सूचना दी गई मौके पर पहुंची पुलिस ने समझा-बुझाकर मामला शांत करा दिया.शाम को ही पति द्वारा मारा पीटा गया था शिकायत पुलिस अधीक्षक से कर पीडि़ता ने न्याय की लगाई गुहार।

Related News

Leave a Comment