17 साल की आयशा अहमद ने 2 गोल्ड मेडल जीतकर रोशन किया देश का नाम

देश में इस समय जिस एथलीट की सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है, वह नाम है हिमा दास। 20 दिन के अंदर ही विभिन्न प्रतियोगिताओं में पांच गोल्ड मेडल जीतकर उन्होंने दिखा गया है कि भारत भी एथलीट की दुनिया में अलग मुकाम पा सकता है। अब उन्ही के नक्शे कदम पर भारत की एक और बेटी है।

यह नाम है दिल्ली के मुस्तफाबाद में रहने वाली आयशा। सर्वोदय कन्या विद्यालय में पढ़ने वाली आयशा ने एशियन कॉन्टीनेंटल रोप स्किपिंग चैंपियनशिप में 22 जुलाई को दो गोल्ड और एक सिल्वर जीता है। पेशे से कपड़े की कटिंग करने वाले कटिंग मास्टर शमीम अहमद का परिवार बेटी पर गर्व कर रहा है।

आयशा के परिवार में उनकी मां रिहाना के अलावा वो चार बहनें और एक भाई है। उनकी एक बहन की शादी हो चुकी है और वो भाई बहनों में चौथे नंबर की हैं। आयशा ने कहा कि वो अपने देश के लिए कुछ करना चाहती हैं। साथ ही बहुत बनकर अपने परिवार को सम्मानपूर्ण जिंदगी देना चाहती हूं।

आयशा का कहना है कि उसके पिता शमीम अहमद उसे रोप स्क‍िपिंग का इंटरनेशनल प्लेयर बनाना चाहते हैं. इसलिए सबसे पहले वो अपने पापा का सपना पूरा करेंगी। इसके बाद उन्हें अपने कोच की तरह खिलाड़ी बनना है।

वो कहती हैं कि और मेरा सपना है कि मैं अपने पैसों से अपनी छोटी बहनों को डॉक्टर बनाऊं। इसलिए मैं खेल के साथ-साथ पढ़ाई पर भी पूरा ध्यान देती हूं।

Related News

Leave a Comment