तीन तलाक न मानने पर महिला को जलाकर मार डाला, पति-ससुर को जेल

श्रावस्ती। भिनगा कोतवाली क्षेत्र के गंड़रा गांव में मुंबई से फोन पर दिए गए तत्काल तीन तलाक को न मानने पर नफीस ने अपने परिवारीजन के साथ मिलकर पहले पत्नी शैयदा की पिटाई की और इसके बाद उसे जला कर मार डाला।

मृतका के पिता रमजान ने दहेज के लिए बेटी को जलाकर मार डालने का आरोप लगाते हुए कोतवाली में तहरीर दी थी। हालांकि इसमें तत्काल तीन तलाक या हलाला का कोई जिक्र नहीं था। पिता का कहना था कि निकाह के बाद से ससुराल के लोग दहेज के लिए शैयदा को प्रताड़ित करते थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 16 अगस्त को दिन में करीब तीन बजे परिजनों जिनमें पति नफीस, ससुर अजीमुल्ला, सास हसीना के अलावा तीकुर, गुड़िया, नादिरा, बहुता, व रहमान की पत्नी ने घर में बांधकर उसकी पिटाई की। इसके बाद मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जला दिया था।

श्रावस्ती के एसपी आशीष श्रीवास्तव के मुताबिक, मृतका के पिता ने अपनी तहरीर में तत्काल तीन तलाक का जिक्र नहीं किया है। यदि पिता की ओर से तत्काल तीन तलाक जैसा मामला बताया जाए तो धारा बढ़ाई जाएगी।

Related News

Leave a Comment