शोरूम में नए जूतों को ट्राई करना पड़ा महंगा, हो गया इन्फेक्शन

4 साल की सियना रसल को दुकान में जूते ट्राई करना बहुत महंगा पड़ गया. इंग्लैंड की सियना स्कूल के जूते लेने के लिए शोरूम में गई हुई थी, वहां पर उसने अपनी फिटिंग के लिए कई सारे जूतों को बिना मौजों के ट्राई किया, जिस कारण उसके पैरों में सेप्सिस हो गया और उसके स्किन में घाव पड़ने लग गया.

सियना को डॉक्टर ने जब चेक किया तो रिपोर्ट से पता चला कि उसने जो जूते ट्राई किए उनमें किसी और बच्चे के सेप्सिस बैक्टीरिया थे जो सियना के पैरों में आ गए और अब वो इस का शिकार हो गई.

कार्डिफ की 26 वर्षीय होटल वर्कर जोडे ने कहा कि उसकी बेटी सिएना आम तौर पर मोज़े और जूते पहनती है. गर्मी के दिन होने के कारण वह सिर्फ सैंडल पहन कर ही स्कूल के जूते खरीदने के लिए शोरूम के लिए चल दी. जब वे शॉपिंग करके घर लौट रही थी तो सिएना के पैरों में दर्द होने लगा. उसे जब डॉक्टर को दिखाया गया तो डॉक्टर ने सिएना को बिना मोजे के जूते पहनकर चेक करने पर सेप्सिस रोग का शिकार होना बताया था.

दरअसल डॉक्टर ने बताया सियना ने जो जूते ट्राई किया उस से दूसरे बच्चों के पैरों के बैक्टीरिया उसके पैरों में आ गए जिसके चलते वह सेप्सिस का शिकार हो गई. डॉक्टर ने सियना के पैरों में हुए इंफेक्शन को पैन से सर्किल करके दिखाया पर दूसरे दिन शियना को इस इन्फेक्शन की वजह से तेज बुखार आ गया और इन्फेक्शन पूरे पैर में फैल गया.

अगले दिन जल्द ही जोडे सियना को लेकर हॉस्पिटल पहुंची वो मन ही मन सोच रही थी की सियना मुश्किल से ऑपरेट होगी. डॉक्टर ने आसानी से उसके सेप्सिस को दबा दबा कर सारा पस निकाल दिया और सिएना को 5 दिन तक हॉस्पिटल में एंटीबायोटिक्स ड्रिप पर रखा.

Related News

Leave a Comment