त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग में हुई थी इंजीनियर की हत्या

लखनऊ। राजधानी में बहुचर्चित एचसीएल के इंजीनियर की हत्या का खुलासा हो गया है। शरद की हत्या प्रेम त्रिकोण में हुई थी, युवती से प्रेम संबंध होने की वजह से आरोपित ने सहयोगी के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची थी।
गत 23 जुलाई को एचसीएल इंजीनियर शरद की घर के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि शरद का एक युवती से था प्रेम प्रसंग। रकाबगंज निवासी सुरेंद्र जायसवाल भी युवती को करता था पसंद। शरद की युवती से नजदीकियां देखकर आरोपित ने अपने सहयोगी सूरज कुमार संग मिलकर कर दी थी हत्या।
यह था पूरा मामला 
गौरतलब है कि ठाकुरगंज के कैंपबेल रोड स्थित वंशी विहार कॉलोनी निवासी राजेश निगम के इकलौते बेटे एचसीएल में सॉफ्टवेयर इंजीनियर शरद निगम (30) की 23 जुलाई रात बेखौफ बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। शरद ऑफिस से काम समाप्त कर घर लौट रहा था। इसी बीच पहले से घात लगाए बदमाशों ने मरी माता मंदिर के पास पीछे से आकर शरद के सिर में गोली मार दी। गंभीर रूप से घायल शरद को उसके परिवारीजन ट्रामा सेंटर लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

Related News

Leave a Comment