गुना से मथुरा तक विशेष टे्रन चलाए जाने की मांग ने पकड़ा जोर

गुना। जिला मुख्यालय से मथुरा तक विशेष टे्रन चलाए जाने की मांग अब जोर पकड़ती जा रही है। अंचल के सैकड़ों लोगों ने एक विशेष बैठक में रेल मंत्रालय, केंद्र सरकार एवं प्रदेश सरकार से मांग करते हुए ज्ञापन में लिखा है कि प्रत्येक पूर्णिमा एवं विशेष पर्वों पर अंचल से लाखों लोग ब्रजधाम की यात्रा करते हैं। हजारों यात्रियों को जगह न मिलने से वापस लौटना पड़ता है।
अंतर्राष्ट्रीय पुष्टिमार्गीय वैष्णव परिषद मप्र की विशेष बैठक में मांग उठाते हुए प्रस्ताव पारित किया गया कि पिछले एक दशक से लगातार इस बात की मांग उठाई जा रही है। लेकिन केंद्र सरकार ने अब तक इस पर ध्यान नहीं दिया। विशेष धार्मिक पर्वों, जन्माष्टमी एवं पूर्णिमा पर ब्रजधाम पहुंचने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में भारी वृद्धि को देखते हुए गुना मुख्यालय से विशेष ट्रेन चलाए जाना आवश्यक है। अंतर्राष्ट्रीय पुष्टिमार्गीय वैष्णव परिषद के प्रांतीय प्रचार प्रमुख एवं विराट हिन्दू उत्सव समिति के संयोजक कैलाश मंथन के मुताबिक जन्माष्टमी पर मध्यांचल से पांच लाख से अधिक श्रद्धालुओं के मथुरा पहुंचते हैं। यही हाल गुरुपूर्णिमा एवं प्रत्येक पूणिमा तथा अन्य पर्वों पर होता है। हाल ही में जन्माष्टमी के अवसर पर टे्रनों की संख्या कम होने से माथुरा जाने वाले श्रद्धालुओं को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। 
हिउस प्रमुख श्री मंथन के पूर्णिमा एवं विशेष पर्व जन्माष्टमी पर मालवा, चंबल, हाड़ौती, बुंदेलखंड, चंबल क्षेत्रों से विशेष रेलें मथुरा तक चलाए जाने की मांग केंद्र सरकार से की। ध्यान रहे कि हर माह पूर्णिमा पर 50 हजार से अधिक यात्री ब्रज गिर्राज जी की परिक्रमा करने ब्रजधाम पहुंचते हैं। रिजर्वेशन न होने से एवं ट्रेनों में जगह नहीं मिलने हजारों लोग ब्रजधाम पहुंचने से वंचित रह जाते हैं।


Source : upuklive

Related News

Leave a Comment