27 वर्षीय विवाहिता को ससुरालवालों ने उतारा मौत के घाट

सीतापुर।  कोतवाली क्षेत्र के मड़ई पुरवा गांव में एक सताइस वर्षीय विवाहिता को ससुराल वालों द्वारा मौत के घाट उतारने के मामला प्रकाश में आया है। मृतका के पिता ने कोतवाली में लिखित तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करवाया है।

पैकरमा पुत्र लालजी निवासी अम्रतागंज थाना खीरी जिला लखीमपुर ने कोतवाली में लखित तहरीर देते हुए बताया कि उन्होंने अपनी पुत्री कोमल 27 वर्ष का विवाह सिधौली कोतवाली के ग्राम मड़ई पुरवा भण्डिया के संदीप पुत्र प्रदीप से 3 वर्ष पूर्व  किया था।

आरोप है कि उनकी पुत्री कोमल को बीती रात अगस्त की रात ससुराल वालों ने मारकर लटका दिया। जिसकी सूचना उन्हें ग्रामीणों व रिस्तेदारों से मिली। जब शनिवार को वह मड़ई पुरवा पहुंचे तब उनकी पुत्री का शव देखने को मिला। जिसके गले पर सन्दिग्ध काले निशान पड़े हुए थे। पीडि़त पिता ने यह भी बताया कि उसकी पुत्री को उसकी जेठानी रेनू व जेठ सीताराम द्वारा उसके दामाद को बहका कर पति पत्नी में लड़ाई करवाई जाती थी। जिससे दोनों में हमेशा अनबन रहती थी।

उन्होंने बताया कि कई बार उन्होंने इस अंर्तकलह को सुलझाने के प्रयास किये। लेकिन ससुरालियों की मनमानी के कारण रिश्ते नहीं सुलझे। उक्त आरोप है कि रक्षाबंधन को भी ससुरालवालों ने उनकी पुत्री कोमल को मायके नहीं भेजा और शुक्रवार शनिवार की रात कोमल की संदिग्ध हालातों में मौत हों गयीं कोतवाली पुलिस ने पैकरमा की तहरीर पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

Related News

Leave a Comment