कई शिकायतों के बाद भी पुल न बनने पर गांव वालों ने दी चुनाव बहिष्कार की धमकी

नई दिल्ली।  छत्तीसगढ़ के पिपरही गांव के लोगों ने आने वाले ग्राम पंचायत चुनावों का बहिष्कार करने की धमकी दी है। ऐसा इन ग्राम वासियों ने खुशी से नहीं बल्कि मजबूरी में किया है क्योंकि इस गांव में एक तालाब को पार करने के लिए कोई स्थायी पुल नहीं है। उसी की मांग करते हुए गांव वासियों ने बहिष्कार की धमकी दी है।

ये पुल इस गांव को दूसरे हिस्सों से जोड़ता है। अभी फिलहाल गांव वाले एक कामचलाऊ लकड़ी के ब्रिज के सहारे ​तालाब को पार करते हैं बरसातों में जिसका इस्तेमाल बहुत ही दुर्गम हो जाता है।

गांव वालों का कहना है कि पहले हमने जिला प्रशासन और कई नेताओं से शिकायत की है। बार-बार अनुरोध करने के बाद भी हमारी मांगें पूरी नहीं हुई हैं और अब हमने आगामी पंचायत चुनावों का ब‘हिष्कार करने का फैसला किया है।

गांव के एक निवासी का कहना है कि मानसून के दौरान जब पानी ओवरफ्लो हो जाता है तो हमारा गांव एक मिनी आइलैंड में बदल जाता है। एक दूसरे गांव वाले ने कहा कि गांव के एक शख्स ने लकड़ी के पुल का अस्थायी उपाय के तौर पर निर्माण किया और तब से हम इसका इस्तेमाल कर रहे हैं।

लगभग हर दूसरे दिन लोग पुल पार करते समय गिरते रहते हैं। आज भी एक व्यक्ति अपनी बाइक के साथ पुल को पार करते समय गिर गया।

Related News

Leave a Comment