पाकिस्तान की पहली एस्ट्रोनॉट नमीरा सलीम ने 'चंद्रयान 2' को सराहा

नई दिल्ली। पाकिस्तान की एस्ट्रोनॉट नमीरा सलीम ने भारत समेत इसरो को लूनर मिशन 'चंद्रयान 2'  के सफल प्रयासों के लिए दिल खोल कर बधाई दी है. नमीरा अंतरिक्ष अभियान में जाने वाली पाकिस्तान मूल की की पहली एस्ट्रोनॉट हैं. उन्होंने 'चंद्रयान 2' को समग्र दक्षिण एशिया के लिए एक बड़ा कदम बताया है।

नमीरा सलीम ने 'चंद्रयान 2' पर भारत और इसरो को बधाई देते हुए कहा, 'चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडर विक्रम की सॉफ्ट लैंडिंग के ऐतिहासिक प्रयास के लिए मैं भारत और इसरो को तहे दिल से बधाई देती हूं. 'चंद्रयान 2' लूनर मिशन सिर्फ अंतरिक्ष में भारत की बड़ी छलांग नहीं है. इसने दक्षिणी एशिया बल्कि समग्र वैश्विक स्पेस इंडस्ट्री को गर्व करने का एक मौका उपलब्ध कराया है.'

गौरतलब है कि नमीरा सलीम वर्जिन गैलेक्टिक के सर्वेसर्वा रिचर्ड ब्रॉनसन के साथ अंतरिक्ष में जाने वाली पाकिस्तान की पहली एस्ट्रोनॉट हैं. उन्होंने दुनिया की पहली कॉमर्शियल स्पेस लाइन के साथ यह उपलब्धि हासिल की थी। 

Related News

Leave a Comment