ऐपल की वर्कर्स पर बड़ी कार्रवाई- यूजर्स की पर्सनल बातें सुनने पर 300 को काम से निकाला

नई दिल्ली। अभी कुछ दिन पहले ही एक रिपोर्ट सामने आई थी कि अमेजन का वर्चुअल असिस्टेंट अलेक्सा और गूगल असिस्टेंट यूजर्स की निजी बातें सुन रहे हैं, वहीं अब एपल के असिस्टेंट को लेकर भी इसी तरह के सवाल उठने लगे हैं। कॉन्टैक्टर्स द्वारा सुनी जा रही इन ऑडियो क्लिप्स से यूजर्स की प्रिवेसी पर लगातार खतरा बना हुआ था। कंपनियां इन कॉन्ट्रैक्टर्स को ऑडियो क्लिप्स को रिव्यू करने के लिए हायर करती हैं ताकि वर्चुअल असिस्टेंट की ट्रांसक्रिप्शन (समझ और रिस्पॉन्स) को बेहतर किया जा सके। इसी बीच एक खबर सामने आई है जिसमें पता चला है कि ऐपल ने ऑडियो क्लिप सुनने वाले अपने 300 कॉन्ट्रैक्टर्स को हटा दिया है। ऐपल ने अपने सीरी वर्चुअल असिस्टेंट यूजर्स की प्रिवेसी को मेनटेन रखने के लिए यह कदम उठाया है।
बता दें कि ऐपल ने जिन 300 कॉन्ट्रैक्टर्स को हटाया है वे एक शिफ्ट में एक हजार ऑडियो क्लिप्स को सुनते थे ताकि सीरी के रिस्पॉन्स और समझ को बेहतर बनाया जा सके। प्रिवेसी और डेटा लीक के बढ़ते मामले को देखते हुए ऐपल को मजबूरन सीरी को इंप्रूव करने वाले इस प्रोग्राम को रोकना पड़ा है।  रिपोर्ट के मुताबिक ये थर्ड पार्टी वर्कर ज्यादातर कैनेडियन, ऑस्ट्रेलियन और यूके इंग्लिश ऐक्सेंट को सुना करते थे।
इस बारे में ऐपल के एक प्रवक्ता ने कहा, हमारा मानना है कि सभी के साथ हमें अच्छा व्यवहार करने चाहिए और सभी को वह सम्मान मिलना चाहिए जिसके वे हकदार हैं। इसमें हमारे एप्लॉयीज के साथ वे सभी सप्लायर्स शामिल हैं जिनके साथ हम काम करते हैं। ऐपल कस्टमर्स की प्रिवेसी के लिए प्रतिबद्ध है इसीलिए सीरी को बेहतर करने के फैसले को अभी टाला जा रहा है। हम इसके लिए अपनी पॉलिसी पर फिर से विचार करेंगे।
इससे पहले भी ऐपल को दुनियाभर में प्रिवेसी इशू के चलते अपने च्ॉलिटी कंट्रोल प्रोग्राम को बंद करना पड़ा था क्योंकि एक रिपोर्ट में कहा गया था कि कंपनी के थर्ड पार्टी कॉन्ट्रैक्टर सीरी यूजर्स की बातों को लगातार सुन रहे थे। रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि ये कॉन्ट्रैक्टर्स यूजर्स के निजी पलों में की जाने वाली बातचीत को भी सुना करते थे।

Related News

Leave a Comment