गुड़िया के इलाज के बाद ही बच्ची ने करवाया अपना इलाज

नई दिल्ली। बचपन सब के जीवन में आता है। कहा जाता है इंसान के जीवन में जवानी से पहले बचपन ही सबसे खूबसूरत होता है। बचपन में किसी प्रकार की चिंता फिक्र नहीं होती। कुल मिलाकर हमें खाना-पीना और सोना ही होता है।

बच्चों में एक खास बात होती है वो यह है कि उन्हें जो चीज़ सबसे प्रिय होती है वो उसके बिना ना खाना खाएंगे ना ही उसके बिना सोएंगे। अब ऐसा ही वाकया देश की राजधानी दिल्ली में सामने आया है जहां बच्ची को अपनी गुड़िया से बहुत लगाव है जिसके बिना बच्ची कुछ नहीं करती है।

बात है दिल्ली के लोकनायक अस्पताल की। इस अस्पताल में 11 माह की बच्ची को भर्ती किया गया। दरियागंज निवासी फरीन दो सप्ताह पहले अपनी 11 महीने की बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंची थी। घर पर बेड से नीचे गिरने की वजह से बच्ची का पैर फ्रैक्चर हो गया था। बच्ची को जब अस्पताल लाया गया और इलाज शुरु किया गया तो वो छ’टपटाने लगी। बच्ची इलाज नहीं करवा रही थी।

बच्ची अस्पताल में द’र्द से कराह रही थी। डॉक्टर को इंजेक्शन लगाता देख वो छटपटा कर रोने लगी। इस स्थिति के बाद मां ने डॉक्टर को बच्ची की गुड़िया के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि इसकी एक गुड़िया है जो घर पर रखी हुई है। उसे दूध पिलाने के बाद ही ये दूध पीती है। तब डॉक्टर ने घर से वो गुड़िया मंगवाई। जब गुड़िया आ गई तो उसका भी बच्ची के बगल में इलाज किया गया तब जाकर बच्ची ने आराम से इलाज करवाया।

Related News

Leave a Comment