मुस्लिम से शादी करने पर युवती ने कहा- लव जिहाद के जहर से हमारा घर न तोड़ो...

चंडीगढ़। युवती ने शुक्रवार को हाईकोर्ट में आकर कहा कि उसने मुस्लिम लड़के से अपनी मर्जी से शादी की है। मामले को राजनीतिक रंग देने की कोशिश न करें। मुस्लिम युवक से शादी को लव जिहाद बताकर उसका घर तोड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

याचिका दाखिल करते हुए युवती ने एडवोकेट गुरपिंदर सिंह ढिल्लों, मोहम्मद अरशद और सुनीता गुप्ता के माध्यम से हाईकोर्ट को बताया कि उसने अकील नामक युवक से 15 अगस्त 2019 को अंबाला में मुस्लिम रीति रिवाज से शादी की है।

उसने परिवार के विरोध को देखते हुए 17 अगस्त को अपनी और अपने पति की सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट से गुहार लगाई थी।

हाईकोर्ट ने फिरोजपुर झिरका के एसएचओ को उनकी सुरक्षा से जुड़ी रिप्रजेंटेशन पर फैसला लेने के आदेश दिए थे। आदेश जारी होने के वक्त लड़की के परिजन भी हाईकोर्ट में मौजूद थे।

Related News

Leave a Comment