नक्सलियों ने की गला रेतकर सरपंच की हत्या

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में बीती रात नक्सलियों ने छोटेगुडरा गांव के सरपंच लखमा मंडावी की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी। हत्या का कारण नक्सलियों को पैसा नहीं देना और मीटिंग में शामिल नहीं होना बताया जा रहा है।
पुलिस सूत्रों के अनुसार बीती रात लगभग 11 बजे 10-15 हथियारबंद सशस्त्र नक्सलियों ने कुंआकोंडा थाना क्षेत्र के ग्राम बड़ेगुडरा में धावा बोल दिया। नक्सलियों ने सरपंच लखमाराम मंडावी को घर से बाहर निकाला और परिजनों व गांव वालों के समक्ष ही कुल्हाड़ी एवं गुप्ती जैसे परम्परागत हथियारों से गला रेत दिया। लखमा की मौके पर ही सांसे थम गयीं। नक्सलियों ने मौके पर परचा भी फेंका है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि, लखमा उन्हें पैसे नहीं देता था साथ ही मीटिंग में बुलाए जाने पर भी वह नहीं पहुंचता था। नक्सलियों ने लखमा पर पुलिस मुखबिर होने का भी आरोप लगाया है।
इधर चुनाव के ठीक पहले हुयी राजनीतिक हत्या से समूचे विधानसभा क्षेत्र में दशहत की लहर व्याप्त हो गयी है, जिसने सुरक्षा एजेंसियों की चिंता बढ़ा दी है।
विदित हो कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान ही भारतीय जनता पार्टी के विधायक भीमा मण्डावी की नक्सलियों ने हत्या कर दी थी, फलस्वरूप अब आगामी 23 सिंतबर को उपचुनाव होना है, जिसमें  दोनों शहीदों की पत्नियां ओजस्वी मंडावी भाजपा एवं देवती कर्मा कांग्रेस से उम्मीदवार घोषित की गयी हैं।
बस्तर आईजी विवेकानंद सिंहा ने वारदात की पुष्टि करते हुए बताया कि हत्या को मलांगिर एरिया कमेटी में सक्रिय नक्सली प्रदीप की स्माल एक्सन टीम ने अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि हत्या के बाद समूचे विधानसभा क्षेत्र में गश्त सर्चिंग तेज कर दी गयी है।

Related News

Leave a Comment