4000 बच्चों को फ्री में किताबें उपलब्ध करा चुके हैं संदीप कुमार

कई छात्र आज भी अपने परिवारों की आर्थिक स्थिति के कारण किताबें नहीं खरीद पाते हैं जिसके कारण उनके सपने अधूरे रह जाते हैं। ऐसे लोगों के लिए मसीहा बनकर आगे आए हैं चंडीगढ़ के संदीप कुमार। संदीप “ओपन आई फाउंडेशन” नाम से एक एनजीओ चलाते हैं।

उन्होंने सरकारी स्कूलों, कॉलेजों और अन्य क्षेत्रों में उन छात्रों की पहचान के लिए दौरा करना शुरू किया, जो किताबें नहीं खरीद सकते हैं और उनकी मदद भी करने लगे।

उन्होंने पिछले दो वर्षों में लगभग 10,000 पुस्तकों का संग्रह किया है। अभी तक संदीप 4000 से ज्यादा बच्चों की मदद कर चुके हैं। उनका एनजीओ जल्द ही 200 गरीब बच्चों को गोद लेने वाला है। गोद लिए गए बच्चों को एनजीओ द्वारा अध्ययन के लिए सभी आवश्यक सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। कुमार यह भी चाहते हैं कि अन्य लोग इस सामाजिक कार्य के लिए आगे आएं और गरीब बच्चों को शिक्षित करने में मदद करें।

पुस्तकों के लिए संदीप कुमार के पास आने वाले लोग उनके इस कदम की सराहना करते हैं। उनके विचार में, वह गरीब छात्रों की बेहतरी के लिए समाज सेवा कर रहे हैं। ऐसे छात्र जो किताबें और स्टेशनरी की चीजें खरीदने में समर्थ नहीं हैं, उनके लिेए संदीप एक आशा की तरह हैं।

सामाजिक कारण के लिए आगे आने के कारण का खुलासा करते हुए, संदीप कुमार ने कहा कि जेबीटी प्रशिक्षण के दिनों में, उन्होंने पाया कि आर्थिक रूप से गरीब परिवारों के बच्चों के पास किताबें खरीदने के लिए संसाधन नहीं थे।

Related News

Leave a Comment