राहुल की न्यूनतम आय योजना महज धोखा : जेटली

नई दिल्ली, 25 मार्च (आईएएनएस)। केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने 25 करोड़ गरीब लोगों को सालाना 72,000 रुपये आय मुहैया कराने के कांग्रेस के चुनावी वादे को सोमवार को एक धोखा करार दिया। उन्होंने कहा कि यह धनराशि नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा मौजूदा प्रत्यक्ष लाभ अंतरण द्वारा मुहैया कराई जा रही राशि के दो-तिहाई से कम है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को घोषणा की कि यदि उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो सबसे गरीब श्रेणी के 20 प्रतिशत परिवारों को न्यूनतम आय गारंटी योजना के तहत सालाना 72,000 रुपये दिए जाएंगे।

जेटली की यह टिप्पणी राहुल की इस घोषणा के बाद आई है।

भाजपा नेता ने अपने फेसबुक पोस्ट के साथ ही एक संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस की आलोचना की।

सरकार द्वारा मुहैया कराई जा रही कुल सब्सिडी राशि का जिक्र करते हुए जेटली ने कहा कि 5.34 लाख करोड़ रुपये गरीबों को पहले ही वितरित किए जा रहे हैं।

जेटली ने मीडिया से कहा, उपरोक्त 5.34 लाख करोड़ के अतिरिक्त कई अन्य योजनाएं हैं, जो गरीबों को हजारों करोड़ दे रही हैं। यदि कांग्रेस पार्टी की घोषणा का सामान्य हिसाब लगाया जाए तो पांच करोड़ परिवारों को 72,000 रुपये के हिसाब से 3.6 लाख करोड़ रुपये बैठेगा। यह राशि दी जा रही राशि के दो-तिहाई से कम है। इसलिए यह एक धोखे वाली घोषणा है।

उन्होंने कांग्रेस पर गरीबी के मुद्दे पर पिछले 50 सालों से देश को गुमराह करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, गरीबी हटाओ का नारा देने के बाद भी यदि आज आप सोचते हैं कि 20 प्रतिशत लोगों की आय 12,000 रुपये भी नहीं है, तो देश के गरीबों को नजरअंदाज करने की जवाबदेही आपकी बनती है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment