कर्नाटक कैबिनेट में 2 नए मंत्री शामिल (लीड-1)

अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, राज्य के राज्यपाल वजुभाई वाला ने राजभवन में सादे समारोह में विधायकों आर. शंकर व एच.नागेश को मंत्री पद की शपथ दिलाई।

शंकर कर्नाटक प्रज्ञावंतारा जनता पक्ष (केपीजेपी) से हैं। वह हावेरी जिले के रानेबेन्नूर विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं, जबकि नागेश कोलार जिले के मुलबगल क्षेत्र से निर्दलीय विधायक हैं।

दोनों विधायकों ने कन्नड़ में ईश्वर के नाम पर शपथ ली।

राज्य के मुख्य सचिव टी.एम. विजया भाकर ने भवन के लॉन में ग्लास हाउस में संक्षिप्त शपथ ग्रहण की कार्यवाही का संचालन किया।

शंकर दूसरी बार मंत्री बने हैं। इससे पहले उन्हें 22 दिसंबर 2018 को कैबिनेट के फेरबदल में बाहर कर दिया गया था।

शंकर व नागेश ने 15 जनवरी को गठबंधन सरकार से समर्थन वापस से लिया था। उन्होंने कहा था कि वे सरकार के खराब प्रदर्शन से निराश हैं।

उम्मीदों के विपरीत कांग्रेस के विधायक को 34 सदस्यीय मंत्रालय में शामिल नहीं किया गया, जिसमें एक जगह रिक्त है।

दोनों विधायकों को जद-एस के 12 सदस्यीय कोटा में शामिल किया गया है, जिसके 10 विधायक पहले से ही मंत्रालय में हैं।

चुनाव बाद हुए गठबंधन के तहत सत्ता भागीदारी समझौते में विधानसभा में अपनी संख्या के अनुपात में मंत्रालयों की सहमति बनी थी। राज्य के 34 सदस्यीय मंत्रालय में जद-एस ने 12 कैबिनेट पदों में 10 को भर दिया और कांग्रेस के कोटे में 22 मंत्री पद हैं जिनमें से 21 अभी कार्यरत हैं।

जद-एस के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, हमारे पार्टी के विधायकों को कैबिनेट में शामिल करने के बजाय कुमारस्वामी ने शंकर व नागेश को मंत्री बनाने का फैसला किया है, जिससे विपक्षी भाजपा की खरीद-फरोख्त से उन्हें बचाया जा सके।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment