बाहुबली में खामी का पता समय पर लगाने के लिए इसरो की तारीफ

नई दिल्ली, 15 जुलाई (आईएएनएस)। रॉकेट बाहुबली में तकनीकी खामी का पता सोमवार तड़के प्रक्षेपण से एक घंटा पहले लगने से भारत ने चंद्रयान-2 की लांचिंग को कुछ समय के लिए भले ही टाल दिया गया है, लेकिन सोशल मीडिया पर लोगों ने इसरो की प्रशंसा करते हुए कहा है कि कभी नहीं से बेहतर कुछ समय का विलंब होता है।

लांचिंग व्हिकल में तकनीकी खामी पाए जाने पर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर भेजे जा रहे चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण रोक दिया। संशोधित तिथि की घोषणा बाद में की जाएगी।

एक यूजर ने ट्विटर पर लिखा, खामी का समय पर पता चलने से खुश हूं.. यह सब धरती पर ठीक हो सकता है.. प्रक्षेपण के बाद यह संभव नहीं है.. उम्मीद है कि संशोधित प्रक्षेपण तिथि की घोषणा जल्द होगी. इंतजार है।

एक अन्य यूजर ने लिखा, दुर्घटना से पहले सुरक्षा और बचाव जरूरी है।

कुल 978 करोड़ रुपये लागत वाले चंद्रयान-2 का उद्देश्य भारत को चंद्रमा की सतह पर उतरने और उस पर चलने वाले देशों में शामिल करना है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment