केरल : छात्र की हत्या में इस्तेमाल चाकू बरामद, विपक्ष राज्यपाल से मिला

तिरुवनंतपुरम, 19 जुलाई (आईएएनएस)। केरल पुलिस ने शुक्रवार को स्नातक तृतीय वर्ष के एक छात्र की छुरा घोंपकर की गई हत्या में इस्तेमाल चाकू को बरामद कर लिया है। हत्या के बाद विरोध अभी तक जारी है और इस मामले में अब राज्यपाल से हस्तक्षेप करने की मांग की गई है।

नेता प्रतिपक्ष रमेश चेन्निथला के नेतृत्व में शुक्रवार को एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल पी. सदाशिवम से मिला। सदाशिवम संस्थान के कुलपति और लोक सेवा आयोग (पीएससी) के नियुक्ति अधिकारी भी हैं। उन्होंने पीएससी द्वारा सरकारी कॉलेजों में होने वाली परीक्षाओं व प्रवेश प्रक्रियाओं की जांच की भी मांग की।

तिरुवनंतपुरम के विश्वविद्यालय कॉलेज के अंदर एसएफआई कार्यकर्ताओं ने कला संकाय में स्नातक तृतीय वर्ष के छात्र अखिल की हत्या कर दी थी। इस हमले में दो अन्य घायल भी हुए थे। इस घटना के बाद राज्य में खूब विरोध प्रदर्शन हुए।

चेन्निथला ने बैठक के बाद मीडिया से कहा, हमने उन्हें सूचित किया कि यह स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई), मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की छात्र इकाई द्वारा किया गया है।

उन्होंने कहा, हमने सरकारी कॉलेजों में प्रवेश प्रक्रिया, परीक्षाओं के संचालन के तरीके और पीएससी के कामकाज पर उन्हें तुरंत संज्ञान लेने का कहा है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि राज्यपाल ने प्रतिनिधियों को आश्वस्त किया है कि वह दिन-प्रतिदिन के घटनाक्रम को करीब से देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब तक सीबीआई जांच का आदेश नहीं दिया जाता, तब तक विपक्ष का विरोध जारी रहेगा।

पुलिस ने अभी तक आठ में से पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इस मामले के दोनों प्रमुख आरोपी शिवरंजित और नजीम हैं जो कॉलेज में एसएफआई इकाई के पदाधिकारी हैं। उन्होंने पीएससी में केरल सशस्त्र पुलिस (कासरगोड) की चौथी बटालियन के अधिकारियों की सूची में क्रमश: पहला और 28वां स्थान हासिल किया है। अब पीएससी ने भी आरोपों पर एक आंतरिक जांच शुरू की है।

शुक्रवार को पुलिस सबूत जुटाने के लिए गिरफ्तार किए गए दो छात्रों को कॉलेज में लेकर गई, जिसके बाद हत्या में इस्तेमाल चाकू बरामद कर लिया गया। गिरफ्तार आरोपियों ने कबूला कि उन्होंने चाकू ऑनलाइन खरीदा था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment