शीला दीक्षित को हजारों लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की (लीड-1)

नई दिल्ली, 21 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित को रविवार को हजारों पुरुषों व महिलाओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की। शीला दीक्षित के पार्थिव शरीर को निगमबोध घाट ले जाया गया, जहां राजकीय सम्मान के साथ उनकी अंत्येष्टि की गई।

पार्टी के मुख्यालय में जाकर श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की अध्यक्ष सोनिया गांधी व कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी शामिल रहीं।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ व वरिष्ठ नेता अहमद पटेल व राज बब्बर भी श्रद्धांजलि देने वालों में शामिल रहे।

शीला दीक्षित का पार्थिव शरीर एक वैन से ले जाया गया। इस वैन पर कांग्रेस का झंडा लगाया गया था। पार्थिव शरीर के पास उनकी बहन रामा दीक्षित बैठी थीं।

अंतिम यात्रा में बहुत से कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता वैन के पीछे चल रहे थे। इसमें कार व दो पहिया भी शामिल थे।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बताया कि वे यहां क्यों जमा हैं।

पार्टी के एक कार्यकर्ता जगदीश शर्मा ने कहा, बीते 15 साल से हमने दिल्ली को हर रोज समृद्ध होते देखा है। दिल्ली में जो आज हरियाली व बुनियादी ढांचा है, वह दीक्षित की वजह से है।

उनका पार्थिव शरीर सुबह में निजामुद्दीन स्थित उनके आवास से कांग्रेस मुख्यालय लाया गया।

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित का निधन शनिवार की शाम दिल का दौरा पड़ने से हुआ।

उनका पार्थिव शरीर शनिवार शाम से रविवार की सुबह तक दक्षिणी दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित उनके आवास पर रखा गया था।

रविवार की सुबह वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी व सुषमा स्वराज व जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने उनके आवास पर जाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। शीला दीक्षित, दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रहीं।

दिल्ली सरकार ने उनके सम्मान में दो दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment