नौकरशाही प्रक्रिया के कारण कोच चुनने में हुई देरी : शरथ कमल

नई दिल्ली, 24 जुलाई (आईएएनएस)। भारत के शीर्ष टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंता शरथ कमल का मानना है कि नए कोच को चुनने की जटिल प्रक्रिया के कारण ही भारतीय टीम को नया कोच मिलने में लंबा समय लगा।

इटली के मैसिमियो कोन्सटाटिनि ने पिछले साल एशियाई खेलों के बाद राष्ट्रीय टीम के कोच के पद से इस्तीफा दे दिया था।

भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) को नए कोच की खोज करने में काफी समय लगा और मंगलवार को घोषणा हुई कि कनाडा के देजान पापिक भारतीय टेबल टेनिस टीम के नए कोच होंगे।

अल्टिमेट टेबल टेनिस (यूटीटी) के उद्धाटन समारोह के दौरान बुधवार को कमल ने कहा, मुझे लगता है कि जब भी एक कोच ने राष्ट्रीय टीम को छोड़ा है, नौकरशाही और चुनावी प्रक्रिया के कारण एक नया कोच खोजने में परेशानी हुई है। मैं समझता हूं कि प्रक्रिया (नए कोच के चुनने की) थोड़ी बोझिल है। भले ही टीटीएफआई ने नया कोच खोज लिया था, लेकिन इसमें समय लगा।

कमल ने टोक्यो में होने वाले 2020 ओलम्पिक पर बात करते हुए कहा, ऐसे कई क्षेत्र हैं जहां हमें सुधार की आवश्यकता है लेकिन अभी के लिए टोक्यो 2020 पर हमार ध्यान केंद्रित है। अब हमारे पास एक सिस्टम है और खिलाड़ियों ने बिना कोच के भी अच्छा प्रदर्शन किया है। मेरे और साथियान जैसे खिलाड़ी लंबे समय से बिना कोच के बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। इसलिए हमें अब कोच के साथ काम करना होगा, हम लंबे समय से ऐसा कर रहे हैं और इसलिए आपको एक नया सिस्टम बनाने के बजाय सिस्टम में आने की जरूरत है। आप ओलम्पिक के बाद एक नया सिस्टम बना सकते हैं।

कमल 25 जुलाई से शुरू हो रहे यूटेटे में चेन्नई लायन्स के लिए खेलेंगे।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment