अमेरिका में तालिबान से संबंध के आरोपों में बांग्लादेशी मूल का व्यक्ति गिरफ्तार

नई दिल्ली, 27 जुलाई (आईएएनएस)। अमेरिकी सुरक्षा बलों ने बांग्लादेशी मूल के एक व्यक्ति को तालिबान से जुड़े आतंकी आरोपों के बाद गिरफ्तार किया।

अधिकारियों के अनुसार, व्यक्ति को उस वक्त गिरफ्तार कर लिया गया, जब वह कथित तौर पर तालिबान में शामिल होने के लिए पाकिस्तान जाने की कोशिश कर रहा था।

अधिकारियों ने कहा, आतंकवादी कृत्यों के लिए सामग्री प्रदान करने की कोशिश करने और विदेशों में स्थित अमेरिकी नागरिकों की हत्या के समर्थन में प्रयास करने को लेकर शुक्रवार को 33 वर्षीय दिलावर मोहम्मद हुसैन पर मामला दर्ज किया गया है।

बांग्लादेशी मूल का वह चौथा ऐसा व्यक्ति है, जिसे आतंकवाद के आरोप में न्यूयॉर्क में गिरफ्तार किया गया है।

अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि कथित तौर पर तालिबान समर्थक हुसैन की गिरफ्तारी ऐसे वक्त में हुई है, जब वे अफगानिस्तान में आतंकवादी समूह के साथ एक शांति समझौता करने के करीब हैं।

संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) न्यूयॉर्क कार्यालय के सहायक निदेशक-इन-चार्ज विलियम स्वीनी ने कहा, कट्टरपंथी विचारधाराओं का लालच कई स्रोतों से आता है और सिर्फ इसलिए कि तालिबान एक पुराने व प्रचलित चरमपंथी समूह की तरह लग सकता है, इसे नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

संघीय अदालत में यहां दायर शिकायत में कहा गया है कि हुसैन ने पाकिस्तान की यात्रा करने और अफगानिस्तान में तालिबान में शामिल होने के लिए एफबीआई गोपनीय स्रोत की भर्ती करने की भी कोशिश की।

शिकायत के अनुसार, हुसैन ने ोत से कहा कि वह अमेरिकी सरकार से लड़ना चाहता है और मरने से पहले इस्लाम को नहीं मानने वाले कुछ लोगों को मारना चाहता है।

उसने कथित तौर पर अपने मिशन के लिए संचार उपकरण और ट्रेकिंग गियर खरीदे और हथियार खरीदने के लिए स्रोत से पैसे बचाने को कहा।

उसकी योजना की जानकारी किसी को न हो इसके लिए उसने पाकिस्तान जाने से पहले थाईलैंड जाने की योजना बनाई लेकिन एफबीआई ने उसे न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर ही गिरफ्तार कर लिया।

नेशनल सिक्योरिटी के सहायक अटॉर्नी जनरल जॉन डेमर्स ने कहा, देश और विदेश में आतंकवाद का खतरा बना हुआ है और नेशनल सिक्योरिटी डिवीजन व्यक्तियों को इस तरह की घातक योजनाओं को अंजाम देने से रोकने के लिए प्रतिबद्ध है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment