पीसीबी ने प्रशंसकों से सर्वश्रेष्ट टेस्ट जीत चुनने को कहा

लाहौर, 27 जुलाई (आईएएनएस)। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने अपने अभी तक के 67 साल के क्रिकेट इतिहास में से अपनी अभी तक की सर्वश्रेष्ठ टेस्ट जीत चुनने की नई मुहीम शुरू की है। इसके लिए पीसीबी की एक समिति ने चार टेस्ट मैचों कों चिन्हित किया है और प्रशंसकों से इन चार में से एक टेस्ट जीत को चुनने के लिए वोट करने को कहा है।

इस पांच सदस्यीय समिति में बेनेडिक्ट बेर्मानेज, कमर अहमद, डॉ. नाउमन नियाज, उस्मान सामिउद्दीन और मजहर अर्शद हैं।

इस समिति ने जो चार मैच चुने हैं उसमें से दो भारत के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच हैं। इनमें से एक 1987 में बेंगलुरू में खेला गया टेस्ट मैच और दूसरा 1999 में चेन्नई में खेला गया टेस्ट मैच है। इन दोनों के अलावा 1954 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल मैदान पर खेला गया टेस्ट मैच और कराची में 1994 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला गया टेस्ट मैच शामिल है।

वोटिंग प्रक्रिया 26 जुलाई सुबह 10 बजे से शुरू हो चुकी है जो 29 जुलाई तक जारी रहेगी। वोटिंग के बाद पीसीबी बयान जारी कर परिणाम का ऐलान करेगी।

द डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, वोटिंग की प्रक्रिया पीसीबी के फेसबुक पेज और ट्विटर पर आयोजित की जाएगी और इससे आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के लांच के साथ जोड़ा गया है, जो 29 जुलाई को होगी।

समिति ने हर मैच को चुनने के पीछे कारण बताया है।

1954 में ओवल में पाकिस्तान ने टेस्ट मैच जीता था। इसी के साथ पाकिस्तान अपने पहले इंग्लैंड दौरे पर जीत हासिल करने वाली पहली टीम बनी थी। इस जीत ने सीरीज को 1-1 से बराबरी पर खत्म किया था।

1987 में पाकिस्तान ने बेंगलुरू के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में भारत को मात दी थी और भारत में पहली टेस्ट सीरीज जीत हासिल की थी।

1995 में कराची में खेले गए टेस्ट मैच में पाकिस्तान ने आस्ट्रेलिया को हराया था। आस्ट्रेलिया इस मैच में पाकिस्तान में अपने 35 साल के जीत सूखे को खत्म करने के करीब थी लेकिन इंजमाम उल हक और मुश्ताक अहमद ने 57 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिला आस्ट्रेलिया को इतिहास रचने से रोका था।

1999 में चेन्नई के एम.ए. चिदम्बरम स्टेडियम में खेले गए मैच में पाकिस्तान ने दूसरी पारी में सचिन की जुझारू शतकीय पारी के बावजूद भारत को रोमांचक मुकाबले में 12 रनों से हराया था। इस जीत की खास बात यह थी कि चेन्नई के दर्शकों ने पाकिस्तान की टीम को स्टैडिंग ओवेशन दिया था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment