मोइन कुरैशी धनशोधन मामले में सतीश बाबू गिरफ्तार

नई दिल्ली, 27 जुलाई (आईएएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शनिवार को हैदराबाद के व्यवसायी सतीश बाबू सना को विवादास्पद मांस निर्यातक मोइन कुरैशी के खिलाफ चल रहे मनी-लॉन्ड्रिंग (धनशोधन) केस की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार कर लिया है। उन्हें धनशोधन रोकथाम अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया है।

सीबीआई की विशेष अदालत ने शनिवार को बाबू को पांच दिन की प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में भेज दिया है। एजेंसी ने हालांकि कारोबारी की 14 दिन की हिरासत मांगी थी।

बचाव पक्ष के वकील मोहम्मद वसी खान ने तर्क दिया कि उनका मुवक्किल शुरू से ही ईडी के साथ सहयोग कर रहा है और जांच में शामिल भी हो गया है। वकील ने कहा, वह कल ईडी कार्यालय आए और उन्होंने उसे गिरफ्तार कर लिया।

उन्होंने अदालत को यह भी बताया कि बाबू इस मामले में एक प्रमुख गवाह था, लेकिन अब एक आरोपी में बदल दिया गया है, जबकि मुख्य आरोपी मोइन कुरैशी जमानत पर बाहर है।

बाबू ने भ्रष्टाचार के मामले में मदद करने की एवज में वरिष्ठ सीबीआई अधिकारियों पर रिश्वत लेने का आरोप लगाया था। इसके बाद ही कुरैशी के गलत कामों में बाबू की भूमिका सामने आई।

बाबू द्वारा यह बयान तत्कालीन सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के बीच हुई अनबन के दौरान दिया गया था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment