मुक्केबाजी : प्रेसीडेंट्स कप में भारत ने जीते 7 स्वर्ण पदक (लीड-1)

नई दिल्ली, 28 जुलाई (आईएएनएस)। छह बार की विश्व चैंपियन एम सी मैरी कॉम (51 किग्रा) और विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता सिमरनजीत कौर (60 किग्रा) सहित सात भारतीय मुक्केबाजों ने इंडोनेशिया में रविवार को समाप्त हुए 23वें प्रेसीडेंट्स कप मुक्केबाजी टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिए।

भारत ने टूर्नामेंट में कुल नौ पदक जीते, जिसमें सात स्वर्ण के अलावा दो रजत पदक भी है। भारत को टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ टीम घोषित किया गया।

दो महीने पहले ही इंडिया ओपन में स्वर्ण पदक जीतने वाली मैरी कॉम ने फाइनल में आस्ट्रेलिया की अप्रैल फ्रैंक को करारी शिकस्त देकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। मैरी कॉम ने टूर्नामेंट के 51 किलोग्राम भार वर्ग में फ्रैंक को 5-0 से शिकस्त दी।

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने स्वर्ण पदक जीतने पर मैरी कॉम को ट्विटर पर बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, डियर मैरी कॉम, आप भारत की गौरव हैं। प्रेसिडेंट कप इंडोनेशिया में भारत के लिए स्वर्ण पदक जितने के लिए बधाई।

60 किग्रा में एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता सिमरनजीत ने एशियाई खेलों की कांस्य पदक विजेता हसनाह हुसवतुन को 5-0 से शिकस्त देकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

54 किग्रा में असम की जमुना बोरो ने इटली की ग्यूलिया लामांगा को 5-0 से हराकर स्वर्ण अपने नाम किया। 48 किग्रा में मोनिका ने इंडोनेशिया की इनडेंग को मात देकर स्वर्ण जीता।

पुरुषों में 2017 के उलाबटार कप के स्वर्ण पदक विजेता अंकुश दहिया (64 किग्रा), नीरज स्वामी (49) और अनंत प्रहलाद (52) ने भी अपने-अपने भार वर्ग में स्वर्ण पदक हासिल किया।

नीरज ने 49 किग्रा वर्ग के फाइनल में फिलिपिंस के एस मकादो जूनियर को 4-1 से मात दी। नीरज के करियर का यह पहला पदक है।

इसके अलावा अनंत प्रहलाद भी स्वर्ण पर कब्जा करने में सफल रहे। अनंत ने 52 किग्रा वर्ग के फाइनल में अफगानिस्तान के एस रहमानी को 5-0 से शिकस्त देकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

वहीं, पूर्व विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता गौरव बिधूड़ी (56) और इंडिया ओपन के रजत पदक विजेता दिनेश डागर को हारकर रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment