नवाज शरीफ से पूछताछ की अंदरूनी कहानी

लाहौर, 30 जुलाई (आईएएनएस)। पाकिस्तान के भ्रष्टाचार रोधी विभाग राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो के चार अफसरों ने पाकपत्तन भूमि आवंटन मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से कोट लखपत जेल में करीब एक घंटे तक पूछताछ की।

पाकिस्तान मीडिया ने अपनी रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया है कि शरीफ से जेल के एक कमरे में अफसरों ने पूछताछ की। अफसरों ने भूमि आवंटन से संबंधित दस्तावेज शरीफ के सामने रखते हुए कहा, आप मुलजिम हैं।

नवाज शरीफ ने कहा कि यह मामला काफी पुराना है और उस वक्त का है जब वह मुख्यमंत्री हुआ करते थे। 34 साल पुरानी बात है। उन्हें कुछ याद नहीं है। केस की कॉपियां दे दें, देखकर बताऊंगा।

सूत्रों ने बताया कि अफसरों ने पूछा कि आपके तब के सचिव ने आवंटन की जानकारी मंगाई और महज 24 घंटे में ही फैसला कर दिया। इस पर नवाज ने कहा कि विभाग ने केस बनाकर भेजा होगा, हो सकता है कि सचिव ने जल्दबाजी में काम किया हो, इस बारे में तो वही बता सकते हैं।

इस पर जांच टीम ने कहा कि विभाग ने आवंटन के खिलाफ जानकारी भेजी थी लेकिन सचिव ने आनन-फानन में फैसला कर दिया।

अधिकारियों ने कहा कि तत्कालीन सचिव का कहना है कि उन्होंने (पंजाब के) तत्कालीन मुख्यमंत्री (नवाज शरीफ) के कहने पर काम किया। इस पर नवाज ने कहा कि इस बारे में वह कोई जवाब नहीं दे सकते। उनकी कानूनी टीम जवाब देगी। उन्होंने जो कुछ भी किया था, कानून के दायरे में किया था।

इसके बाद जांच टीम लौट गई।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment