सीसीडी के शेयरों में हो सकती है भारी गिरावट : विशेषज्ञ

मुंबई, 30 जुलाई (आईएएनएस)। देशभर में कैफे कॉफी डे (सीसीडी) के नाम से विख्यात कैफे कॉफी एंटरप्राइज के संस्थापक वी. जी. सिद्धार्थ के रहस्यमय परिस्थिति में लापता हो जाने के बाद विश्लेषकों का मानना है कि कंपनी के शेयरों में जबरदस्त गिरावट देखने को मिल सकती है।

बाजार विश्लेषकों ने कहा है कि अगर कंपनी की आर्थिक स्थिति के बारे में जल्द घोषणा नहीं की गई तो उसके शेयर अपनी एक-तिहाई कीमत खो सकते हैं।

सिद्धार्थ द्वारा कथित तौर पर लिखा गया पत्र इस संभावना को और अधिक पुख्ता करता है। पत्र में कई रहस्योद्घाटन किए गए हैं। (पत्र की अभी तक पुष्टि नहीं हुई है) इस पत्र में उन्होंने कुछ विशिष्ट लेनदेन के बारे में बताते हुए लिखा है, प्रत्येक वित्तीय लेनदेन मेरी जिम्मेदारी है। मेरी टीम, ऑडिटर और वरिष्ठ प्रबंधन मेरे सभी लेन-देन से पूरी तरह अनजान हैं। कानून मुझे और केवल मुझे जिम्मेदार ठहराए।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में कैफे कॉफी एंटरप्राइज के शेयर मंगलवार को शुरुआती कारोबार के दौरान 20 फीसदी तक गिर गए, जो अपराह्न् लगभग 3.15 बजे 154.05 रुपये प्रति शेयर पर कारोबार हो कर रहा था।

विश्लेषकों ने शेयरों में और अधिक गिरावट का अंदेशा जताया है।

कैपिटलएम के शोध प्रमुख रोमेश तिवारी ने कहा, अगर आर्थिक स्थिति के बारे में स्पष्ट नहीं किया गया तो स्टॉक दोहरे अंकों (डबल डिजिट) में गिर सकते हैं। यह मामला हमें सत्यम की असफलता की याद दिलाता है।

उन्होंने आगे कहा कि सीसीडी के शेयर पिछले 52 सप्ताह के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गए हैं। उन्होंने कहा, सिद्धार्थ के साथ हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना और उनके द्वारा छोड़े गए कथित पत्र कंपनी में संकट को स्पष्ट रूप से रेखांकित करते हैं।

एपिक रिसर्च के सीईओ मुस्तफा नदीम ने कहा कि सीसीडी संस्थापक के लापता होने और कथित सुसाइड नोट के कारण खलबली मच गई है। उन्होंने कहा, पत्र ने निवेशकों के बीच खलबली को और बढ़ा दिया है। चूंकि इसमें वित्तीय, उधारदाताओं, व्यवसाय की देनदारियों और परिसंपत्तियों के बारे में बात की गई है।

स्थिति तब और भी खराब हो जाएगी जब कई ऋणदाता एक ही बार में कंपनी से बाहर निकलने की कोशिश करेंगे।

कंपनी की ओर से हालांकि कहा गया है, हम संबंधित अधिकारियों की मदद ले रहे हैं। कंपनी को पेशेवर तरीके से सक्षम लोगों की टीम द्वारा नेतृत्व किया जा रहा है, जो व्यापार की निरंतरता सुनिश्चित करेगा।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment