बाघों की संख्या बढ़ाने में इंदिरा से लेकर मोदी तक, सभी प्रधानमंत्रियों का योगदान : करण सिंह

नई दिल्ली, 30 जुलाई (आईएएनएस)। कांग्रेस नेता डॉ. करण सिंह ने मंगलवार को देश में बाघों की संख्या तीन हजार तक पहुंचने पर खुशी जताते हुए कहा कि इंदिरा गांधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक सभी प्रधानमंत्रियों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी जानी चाहिए।

1973 में प्रोजेक्ट टाइगर की शुरुआत करने वाले वरिष्ठ कांग्रेस नेता करण सिंह ने एक बयान में कहा कि 1969 में वन्यजीव (वाइल्ड लाइफ) के भारतीय बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में उन्होंने इंदिरा गांधी को राष्ट्रीय पशु शेर की जगह बाघ को बनाने के लिए राजी किया था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में प्रोजेक्ट टाइगर की भी कल्पना की गई थी।

सिंह ने कहा, मैंने 1973 में जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय पार्क में औपचारिक रूप से प्रोजेक्ट टाइगर का उद्घाटन किया। बाघों की संख्या में वृद्धि बाघ परियोजनाओं में काम करने वाले हजारों वन रक्षकों और सैकड़ों परियोजना निदेशकों को समर्पित है, जिन्होंने इस शानदार जानवर की रक्षा करने के लिए मेहनत की।

उन्होंने कहा कि लोगों को इस काम के लिए प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से लेकर प्रधानमंत्री मोदी तक के सभी प्रधानमंत्रियों को बधाई देनी चाहिए।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment