कर्नाटक : कॉफी किंग सिद्धार्थ के निधन पर मुख्यमंत्री, नेताओं ने शोक जताया

बेंगलुरू, 31 जुलाई (आईएएनएस)। कॉफी किंग वी.जी. सिद्धार्थ के निधन पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा और पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी. देवेगौड़ा सहित कई नेताओं ने शोक जताया और उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं प्रकट कीं।

सोमवार शाम नेत्रावती नदी के पुल से लापता होने के बाद बुधवार तड़के सिद्धार्थ (60) का शव लगभग 36 घंटों तक चले व्यापक तलाशी अभियान के बाद पुल से लगभग 500 मीटर दूर दो मछुआरों ने बरामद किया। सोमवार शाम उनके ड्राइवर ने उनके पुल से गायब होने की शिकायत दर्ज कराई थी।

येदियुरप्पा ने ट्वीट किया, मैं यह जानकर स्तब्ध और दुखी हूं कि सिद्धार्थ अब नहीं रहे। दुखी परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं और ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे।

देवेगौड़ा ने ट्वीट किया, सिद्धार्थ का निधन मेरे लिए झटका है। मैं उन्हें लगभग 35 सालों से जानता था। वह जमीन से जुड़े व्यक्ति थे। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं। राज्य सरकार को उनकी हृदयविदारक मौत की उचित जांच करानी चाहिए।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एस.एम. कृष्णा की सबसे बड़ी बेटी के पति सिद्धार्थ के परिवार में पत्नी मालविका हेगड़े और दो बेटे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कन्नड़ में ट्वीट किया, लगभग 25 सालों से मेरे करीबी मित्र और उद्योगपति सिद्धार्थ के निधन की खबर सुनकर स्तब्ध हूं। उन्होंने कर्नाटक में कॉफी उद्योग को नई पहचान दी और अपने कॉफी के बागानों तथा देशभर में फैली रिटेल श्रंखला कैफे कॉफी डे से हजारों लोगों को नौकरियां दीं। कर्नाटक ने महान उद्योगपति खो दिया।

भाजपा, कांग्रेस, जनता दल (सेकुलर) के नेताओं, उद्योगपतियों, व्यापारियों सहित सैकड़ों की संख्या में लोग शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट करने शहर के सदाशिवनगर क्षेत्र में स्थित कृष्णा के आवास पर उमड़ पड़े।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment