ईद से पहले जारी पेटा के वीडियो में बकरों संग क्रूरता की तस्वीर

वीडियो राजस्थान के अलवर से लिया गया है, जहां बकरी के दूध और मांस के व्यापार को दिखाया गया है।

पेटा के एसोसिएट डायरेक्टर निकुंज शर्मा ने कहा, वीडियो में बकरे को बोरियों में डालते और दोपहिया वाहनों पर सामान के थैले की तरह ले जाते दिखाया गया है। बकरे को दर्द राहत के उपाय किए बगैर बधिया किया जाता है और उन्हें अपने हाल पर छोड़ दिया जाता है, मतलब उचित पशुचिकित्सा नहीं किया जाता है।

पेटा के अनुसार, वीडियो ईद के पहले जारी किया गया है ताकि लोग देख सकें कि बकरे को कितनी तकलीफ होती है और वे लोगों से शाकाहारी बनने की गुहार लगाते हैं।

पेटा ने पशुपालन, डेयरी और मत्स्यपालन मंत्री गिरिराज सिंह को पत्र लिख कर उनसे यह सुनिश्चित करवाने की मांग की है कि बकरे को बधिया करते समय उन्हें एनेस्थेसिया दिया जाए। साथ ही पेटा ने कसाईखानों की जांच की व्यवस्था के साथ-साथ पशु परिवहन एवं वध कानून को लागू करने की मांग की है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment