रामपुर : सपा सांसद एसटी हसन और पूर्व सांसद धर्मेन्द्र यादव हिरासत में (लीड-1)

रामपुर, 1 अगस्त (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद आजम खां पर जमीन हड़पने के साथ ही उनके विधायक बेटे के खिलाफ जिला प्रशासन की कार्रवाई को लेकर सपा के कार्यकर्ता अब सड़क पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस दौरान रामपुर जाने की जिद पर अड़े मुरादाबाद के सांसद एस.टी. हसन और पूर्व सांसद धर्मेन्द्र यादव को हिरासत में लिया गया है।

सपा के प्रदर्शन को देखते हुए जिला प्रशासन अलर्ट पर है और भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

सपा नेता धर्मेन्द्र यादव ने कहा, सरकार रामपुर के सांसद के साथ अन्याय कर रही है। विधायक अब्दुला पर कार्रवाई की जा रही है। आजम खान के साथ न्याय नहीं होगा तो आने वाले समय में लाखों कार्यकर्ता सड़कों पर होंगे। सड़क पर उतर कर हम विश्वविद्यालय की गरिमा को बचाएंगे और आजम खान के लिए संघर्ष करेंगे।

बिलारी से रामपुर जाते समय बिलारी के सपा विधायक मोहम्मद फहीम इरफान और कानपुर जिले के सीसामऊ विधानसभा क्षेत्र के विधायक इरफान सोलंकी को बिलारी तहसील प्रशासन ने भिलाई नगर से निकलते ही हाईवे पर डाक बंगला के सामने रोक दिया। बिलारी विधायक समर्थकों को साथ लेकर रामपुर जा रहे थे। बिलारी के एसडीएम, सीओ और कोतवाल ने दोनों सपा विधायकों और उनके समर्थकों को डाक बंगला के सामने हाईवे पर रोक कर वापस भेज दिया।

पाकबड़ा में रामपुर जाते समय सम्भल के असमौली क्षेत्र से विधायक पिंकी यादव के साथ पुलिस की नोकझोंक हो गई। रामपुर जाते समय पुलिस द्वारा रोके जाने पर विधायक इकबाल महमूद कार्यकर्ताओं के साथ सड़क पर ही बैठ गए।

रामपुर में मिलक के धनेली पूर्वी गांव के पास बरेली बॉर्डर पर सपाइयों को रामपुर आने से रोकने के लिए बेरीकेडिंग लगा दी है। वाहनों की सघन चेकिंग की जा रही है। इस दौरान लखनऊ-दिल्ली हाईवे पर जाम भी लग गया।

वहीं, अमरोहा में जिला प्रशासन ने सपा नेता व पूर्व मंत्री महबूब अली के घर को छावनी बना दिया। गुरुवार सुबह उन्होंने रामपुर जाने का एलान किया था। इसके बाद सुबह से ही समर्थक उनके घर पर जुटने शुरू हो गए थे।

मुरादाबाद में रामपुर बार्डर पर पुलिस ने वाहनों की जांच शुरू कर दी है। सपा नेताओं के घरों पर पुलिस ने डेरा जमा लिया है।

रामपुर में जिला अधिकारी (डीएम) आन्जनेय कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक (एसपी) डॉ. अजय पाल शर्मा खुद भ्रमण कर स्थिति का जायजा ले रहे हैं।

डीएम का कहना है, हम हर हालत से निपटने को तैयार हैं। किसी भी स्थिति में माहौल खराब नहीं होने दिया जाएगा। जिले की शांति व्यवस्था बनाए रखना हमारी प्राथमिकता में शामिल है।

शर्मा ने बताया, क्षेत्र के आसपास की सीमाओं पर सुरक्षा बल तैनात किया गया है। किसी प्रकार की कोई समस्या ना हो पाए इसीलिए हर वाहन को पूरी चेकिंग, ड्राइवर का नाम, नंबर, पता और वाहन की फोटो खींचने के बाद ही रामपुर की सीमा में घुसने दिया जा रहा है।

गौरतलब है कि आजम खां के खिलाफ रामपुर के जिला व पुलिस प्रशासन की कार्रवाई के विरोध में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नेताओं और कार्यकर्ताओं को रामपुर कूच का निर्देश दिया।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment