सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को होगी अयोध्या मध्यस्थता रिपोर्ट पर सुनवाई

मंदिर विवाद पर हिंदू और मुस्लिम पक्षों के बीच आम सहमति बनाने के लिए अयोध्या मध्यस्थता पैनल को 31 जुलाई तक का समय दिया गया था। अब पैनल ने एक सीलबंद लिफाफे में अपनी रिपोर्ट पेश की है।

रिपोर्ट के आधार पर सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को अपनी आगे की कार्यवाही तय करेगा।

पिछली सुनवाई में अदालत ने कहा था कि उसे तीन सदस्यीय मध्यस्थता पैनल की एक रिपोर्ट मिली है, जिसकी अध्यक्षता शीर्ष अदालत के पूर्व न्यायाधीश एफ. एम. आई. कलीफुल्ला कर रहे हैं। पैनल के अन्य दो सदस्य आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर और वरिष्ठ अधिवक्ता श्रीराम पंचू हैं।

अदालत ने फिलहाल रिपोर्ट की विषयवस्तु के प्रकाशन पर रोक लगा दी है, क्योंकि पैनल महीने के अंत तक मध्यस्थता प्रक्रिया जारी रखेगा।

शीर्ष अदालत ने आठ मार्च को आम सहमति के जरिए अयोध्या मसले को हल करने के लिए तीन सदस्यीय पैनल का गठन किया था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment