उत्तर कोरिया ने दागी कम दूरी वाली मिसाइलें : सियोल (लीड-1)

सियोल, 2 अगस्त (आईएएनएस)। उत्तर कोरिया द्वारा शुक्रवार को अपने पूर्वी तट से कम दूरी वाली दो मिसाइलें दागे जाने की जानकारी सामने आई है। दक्षिण कोरिया की सेना के अनुसार, सप्ताह भर के अंदर उत्तर कोरिया द्वारा किया गया यह तीसरा प्रक्षेपण है।

समाचार एजेंसी योनहाप के अनुसार, ज्वॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ (जेसीएस) ने बताया कि दक्षिणी हैमयोंग प्रांत के योंगहंग से मिसाइलों को देर रात करीब 2.59 और 3.23 बजे पूर्वी सागर में प्रक्षेपित किया गया।

जेसीएस के अनुसार, दोनों मिसाइलों ने लगभग 25 किलो मीटर की ऊंचाई पर 220 किलोमीटर तक की उड़ान भरी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि दोनों मिसाइलों की सर्वाधिक गति मैक 6.9 थी।

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति कार्यालय चेओंग वा दे का कहना है कि उत्तर कोरिया द्वारा दागी गई मिसाईलें नई तरह की कम दूरी वाली बैलिस्टिक मिसाइलें लग रही हैं, लेकिन इस पर और विश्लेषण करने की आवश्यकता है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मामले पर चर्चा करने के लिए सुरक्षा संबंधित अधिकारियों को बुलाया गया है।

वहीं अमेरिकी मीडिया ने भी अमेरिकी अधिकारियों का हवाला देते हुए बताया कि उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को कम दूरी की दो बैलिस्टिक मिसाइलें दागी हैं।

एक वरिष्ठ अमेरिकी अधिकारी ने वाशिंगटन में कहा कि उन्हें उत्तर कोरिया द्वारा किए गए नए प्रक्षेपणों की जानकारी है।

समाचार एजेंसी योनहाप को एक अधिकारी ने बताया, हमें उत्तर कोरिया द्वारा आज किए गए प्रक्षेपणों के सार्वजनिक रिपोर्ट की जानकारी है।

उन्होंने आगे कहा, हम स्थिति पर नजर रख रहे हैं। इसके साथ ही हम दक्षिणी कोरिया और जापान के सहयोगियों के साथ मामले पर बारीकी से विचार-विमर्श कर रहे हैं।

प्रक्षेपण के बाद ही संयुक्त राज्य अमेरिका के सचिव माइक पोपिंयो ने कहा कि उत्तर कोरिया से वाशिंगटन की बातचीत जारी थी।

उन्होंने थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में 52 वें एसोसिएशन ऑफ साउथईस्ट एशियन नेशंस फॉरेन मिनिस्टर्स की बैठक के मौके पर यह कहा कि, आपको कभी भी संदेह नहीं होना चाहिए कि हम उत्तर कोरियाई लोगों से क्या बातचीत कर सकते हैं। जब हम बात कर रहे होते हैं, तब भी उनसे बातचीत चल रही होती है।

बीते आठ दिनों में प्योंगयांग ने तीन राउंड हथियारों का परीक्षण किया है। इनमें शुक्रवार की सुबह किया गया कम दूरी वाले बैलिस्टिक मिसाइलों का प्रक्षेपण ताजा है।

वहीं व्हाइट हाउस से ट्रंप का कहना है कि उन्हें मिसाइलों के प्रक्षेपण से कोई दिक्कत नहीं है, क्योंकि कम दूरी वाली मिसाइलों पर उत्तर कोरिया के साथ कोई समझौता नहीं हुआ है।

उन्होंने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा था, हमने इस पर (मिसाइल प्रक्षेपण) कभी बातचीत नहीं की। हमने सिर्फ परमाणु उर्जा पर बातचीत की थी।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment