महिला एसएचओ ने दुष्कर्म, यौन उत्पीड़न के 200 मामलों की जांच की

इस्लामाबाद, 4 अगस्त (आईएएनएस)। दो महीने पहले नियुक्त हुई पाकिस्तान की एक महिला स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) दुष्कर्म और यौन उत्पीड़न के 200 मामलों की जांच कर चुकी है।

एक मीडिया रपट में इसका खुलासा हुआ है।

द न्यूज इंटरनेशनल ने शनिवार को इस बात की सूचना दी कि कुलसुम फातिमा को पंजाब क्षेत्र में पाकपत्तन जिले की पहली महिला एसएचओ नियुक्त किया गया और इतने कम समय में ही उन्होंने अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है।

बीबीसी को दिए अपने हालिया साक्षात्कार में फातिमा ने कहा कि नाबालिग लड़कियों के यौन शोषण की घटनाएं उन्हें गुस्सा दिलाती हैं, लेकिन इस वक्त वह कुछ भी कर पाने में असमर्थ हैं।

फातिमा ने कहा, एक दिन इस पद पर होने की मुझे उम्मीद थी, ताकि मैं बच्चियों के लिए कुछ कर सकूं। मुझे यह अवसर तब मिला जब प्रतियोगी परीक्षा पास करने के बाद मैं पंजाब पुलिस में सब-इंस्पेक्टर नियुक्त हुई।

फातिमा ने कहा कि उनमें इस पदभार को संभालने की खुशी थी, जिसे वह हमेशा से ही करना चाहती थीं।

महिला एसएचओ को वे सभी मामले सौंपे गए, जो महिलाएं और नाबालिग बच्चियों से सम्बन्धित थे।

फातिमा को नियुक्त करने वाले पाकपत्तन के जिला पुलिस अधिकारी (डीपीओ) इबादत निसार ने कहा कि पाकपत्तन पुलिस में महिला पुलिस अधिकारियों की नियुक्ति लोगों को न्याय दिलाने में मददगार होगी।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment