कश्मीर मसले पर पाकिस्तान की यूएनएससी से अपील, शाह ने की सुरक्षा बैठक

नई दिल्ली/इस्लामाबाद, 4 अगस्त (आईएएनएस)। पाकिस्तान ने रविवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) से कश्मीर मसले पर हस्तक्षेप करने की अपील की। उधर, गृहमंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में सुरक्षा को लेकर उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) के समीप नागरिकों पर क्लस्टर बम का इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए यूएनएससी से इस मामले में हस्तक्षेप की अपील की। वहीं, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस मसले को ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक को-ऑपरेशन (ओआईसी) के पास उठाया।

हालांकि भारत ने एलओसी के समीप नागरिकों पर क्लस्टर बम का इस्तेमाल किए जाने के आरोपों से का मजबूती के साथ खंडन किया है।

उधर, जम्मू-कश्मीर में बढ़ते तनाव और आतंकी खतरों के संबंध में खुफिया रिपोर्ट मिलने के बाद पर्यटकों व तीर्थयात्रियों को प्रदेश की अपनी यात्रा समाप्त किए जाने के सरकार द्वारा निर्देश दिए जाने के बाद गृहमंत्री अमित ने रविवार को नई दिल्ली में सुरक्षा को लेकर उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की और प्रदेश के हालात का जायजा लिया।

इस्लामाबाद में इमरान खाने राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए भारत पर एलओसी के पास नागरिकों पर क्लस्टर बम का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से इस मामले में हस्तक्षेप करने की अपील की।

खान ने यह कदम तब उठाया है जब इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति फिर कश्मीर मसले पर मध्यस्थता करने की बात दोहराई जिसे भारत से ठुकरा दिया है।

भारत ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि कश्मीर मसले पर अगर कोई बात होगी तो सिर्फ पाकिस्तान के साथ और वह द्विपक्षीय वार्ता होगी।

एनएससी की बैठक में खान के अलावा रक्षामंत्री परवेज खाटक, विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा और अन्य शीर्ष स्तर के अधिकारी मौजूद थे।

ट्रंप की पेशकश का हवाला देते हुए इमरान ने लगातार ट्वीट करते हुए कहा, राष्ट्रपति ट्रंप ने कश्मीर मसले पर मध्यस्थता करने की पेशकश की है। यह ऐसा करने का वक्त है क्योंकि भारत की ओर से की जा रही आक्रमक कार्रवाई से वहां और एलओसी पर हालात खराब है।

उधर, नई दिल्ली में गृहमंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, गृह सचिव राजीव गौबा, आईबी प्रमुख अरविंद कुमार, रॉ के चीफ सामंत कुमार गोयल और गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

कथित तौर पर शाह जम्मू-कश्मीर के दौरे जाने वाले हैं। सूत्रों के अनुसार, बैठक में इस पर चर्चा हुई।

गृहमंत्री को सीमा के हालात के संबंध में जानकारी दी गई, जहां भारतीय सुरक्षा बलों ने पाकिस्तान के कुछ सैनिकों को जम्मू-कश्मीर में 31 जुलाई और एक अगस्त के दौरान रात में घुसपैठ की कोशिश के दौरान मार गिराया।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment