कांग्रेस ने जम्मू एवं कश्मीर के नेताओं को नजरबंद करने की निंदा की

नई दिल्ली, 5 अगस्त (आईएएनएस)। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने सोमवार को जम्मू एवं कश्मीर के वरिष्ठ राजनीतिक नेताओं को नजरबंद किए जाने पर नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि यह संकेत है कि सरकार अपने लक्ष्यों को पाने के लिए सभी लोकतांत्रिक मानकों की अवहेलना करेगी।

चिदंबरम ने कई ट्वीट्स करते हुए कहा, दिन खत्म होने से पहले हमें पता चल जाएगा कि क्या जम्मू एवं कश्मीर में बड़ा संकट आएगा।

उन्होंने कहा, जम्मू एवं कश्मीर के नेताओं को नजरबंद करना संकेत है कि सरकार अपने लक्ष्यों को पाने के लिए सभी लोकतांत्रिक मानदंडों और सिद्धांतों की अवहेलना करेगी। मैं नजरबंदी की निंदा करता हूं।

मोदी सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, मैंने जम्मू एवं कश्मीर में अनिष्ट की चेतावनी दी थी। लगता है कि सरकार इसके लिए दृढ़संकल्पित है।

उनका यह बयान जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्रियों- महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला जैसे वरिष्ठ नेताओं को सोमवार सुबह से नजरबंद किए जाने के कुछ ही घंटों बाद आया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्रियों- शशि थरूर और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी सरकार के इस निर्णय की आलोचना की है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment