कमजोर विदेशी संकेतों से घरेलू शेयर बाजारों में भारी गिरावट, 418 अंक टूटा सेंसेक्स (राउंडअप-इंट्रो)

मुंबई, 5 अगस्त (आईएएनएस)। विदेशी बाजारों से मिले कमजोर संकेतों और विदेशी निवेशकों की बिकवाली के दबाव में घरेलू शेयर बाजार में सोमवार को भारी गिरावट दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 418.38 अंकों की गिरावट के साथ 36,699.84 पर और निफ्टी 134.75 अंकों की गिरावट के साथ 10,862.60 पर बंद हुआ।

अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव बढ़ने का असर दुनियाभर के शेयर बाजारों पर पड़ा, खासतौर से एशियाई बाजारों में बिकवाली का भारी दबाव रहा। वहीं, देश के ताजा राजनीतिक घटनाक्रमों का भी असर घरेलू शेयर बाजार पर रहा। डॉलर के मुकाबले रुपये में आई कमजोरी से भी बाजार प्रभावित रहा।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 276.05 अंकों की गिरावट के साथ 36,842.17 पर खुला और 418.38 अंकों या 1.13 फीसदी गिरावट के साथ 36,699.84 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 36,844.05 के ऊपरी स्तर और 36,416.79 के निचले स्तर को छुआ।

सेंसेक्स के 30 में से नौ शेयरों में तेजी रही। भारती एयरटेल (3.96 फीसदी), टीसीएस (1.93 फीसदी), टेक महिंद्रा (1.42 फीसदी), एचडीएफसी (1.37 फीसदी) और बजाज ऑटो (0.75 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे -यस बैंक (8.15 फीसदी), टाटा मोटर्स (5.25 फीसदी), पॉवरग्रिड (4.42 फीसदी), रिलायंस (3.48 फीसदी) और कोटक बैंक (3.13 फीसदी)।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांक में भी गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 170.47 अंकों की गिरावट के साथ 13,376.45 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 211.72 अंकों की गिरावट के साथ 12,284.63 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 101.55 अंकों की गिरावट के साथ 10,895.80 पर खुला और 134.75 अंकों या 1.23 फीसदी गिरावट के साथ 10,862.60 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,895.80 के ऊपरी और 10,782.60 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 में से तीन सेक्टरों में तेजी रही, जिसमें दूरसंचार (1.56 फीसदी), प्रौद्योगिकी (0.72 फीसदी) और सूचना प्रौद्योगिकी (0.69 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे -उपभोक्ता सेवाएं (2.73 फीसदी), ऊर्जा (2.65 फीसदी), बिजली (2.56 फीसदी), उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुएं (2.16 फीसदी) और आधारभूत सामग्री (2.07 फीसदी)।

बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। कुल 698 शेयरों में तेजी और 1,737 में गिरावट रही, जबकि 128 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को जम्मू एवं कश्मीर पुनर्गठन विधेयक राज्यसभा में पेश किया, जिसे पारित कर दिया गया। इसके साथ ही संविधान का अनुच्छेद 370 निष्प्रभावी हो गया। गौरतलब है कि इसी अनुच्छेद के तहत जम्मू एवं कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा प्राप्त था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment