फारूक अब्दुल्ला न तो नजरबंद हैं, न ही गिरफ्तार : अमित शाह

नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। लोकसभा में कुछ सदस्यों द्वारा फारूक अब्दुल्ला की अनुपस्थिति और उनकी सुरक्षा को लेकर चिंता जताए जाने के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मंगलवार को कहा कि फारूक अब्दुल्ला पूरी तरह ठीक हैं और अपनी मर्जी से वहां रह रहे हैं।

शाह ने कहा कि फारूक अब्दुल्ला न तो नजरबंद हैं और न ही उन्हें हिरासत में लिया गया है।

गृहमंत्री ने लोकसभा में अनुच्छेद-370 और जम्मू एवं कश्मीर पुनर्गठन विधेयक-2019 पर चर्चा के दौरान कहा, मैं चौथी बार यह कह रहा हूं और मुझे 10वीं बार कहने का धैर्य है। फारूक अब्दुल्ला को न तो हिरासत में लिया गया है और न ही गिरफ्तार किया गया है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) की सदस्य सुप्रिया सुले ने कहा कि फारूक अब्दुल्ला सदन में उनके बगल में बैठते थे, लेकिन वह वहां नहीं हैं और उनकी आवाज नहीं सुनी जा रही है।

जब सुप्रिया ने जानना चाहा कि क्या नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता अस्वस्थ हैं? इस पर शाह ने कहा, मैं उपचार नहीं कर सकता, यह डॉक्टरों का काम है।

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी फारूक अब्दुल्ला के बारे में चिंता व्यक्त करते हुए जानना चाहा कि वह कहां हैं।

उन्होंने कहा, हम सोचते हैं कि यह वास्तव में एक काला दिन है, क्योंकि जम्मू-कश्मीर के दो पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती हिरासत में हैं। हमारे सहयोगी फारूक अब्दुल्ला का ठिकाना अभी भी अस्पष्ट है। हम जानना चाहते हैं कि वह कहां हैं।

दरअसल, अनुच्छेद-370 को रद्द करने के राष्ट्रपति के आदेश के बाद महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला सहित घाटी के कई नेताओं को घर में नजरबंद किया गया था। राज्य में फिलहाल मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं बंद हैं।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment