भारी बारिश से केरल में मरने वालों की संख्या 23 हुई

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के निर्वाचन क्षेत्र वायनाड में 260 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। वहीं जिले के मेप्पादी में बड़ा भूस्खलन होने से वहां 2000 लोग फंस गए हैं।

इलाके के मंदिर, मस्जिद और एस्टेट कार्यकर्ताओं के क्वार्टर ढह गए हैं। इस क्षेत्र से मलबे से चार शव निकाले गए हैं।

14 जिलों के सभी स्कूलों, कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों को शुक्रवार को विनाशकारी बारिश और बाढ़ को ध्यान में रखते हुए बंद कर दिया गया था।

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने राहत और बचाव कार्यों में भारतीय सेना की मदद मांगी है।

वहीं राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की एक दर्जन टीमें पहले से ही बचाव कार्य में लगी हैं।

मेप्पादी में करीब 500 लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। प्रभावित लोगों की चिकित्सा का ध्यान रख रहे राज्य सरकार के एक चिकित्सीय पेशेवर ने मीडिया को बताया कि, भले ही किसी को कोई गंभीर बीमारी न हो, लेकिन ये सभी मानसिक सदमे की स्थिति में हैं।

राज्य शिक्षा मंत्री सी. रवींद्रनाथ ने कहा, हमने सभी लोगों को आश्वासन दिया है, कि उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है, राज्य सरकार उनकी जरूरतों का ध्यान रखेगी।

रेलवे ने 12 ट्रेनों को रद्द कर दिया है, वहीं कई ट्रेनों को डाईवर्ट कर दिया गया है।

वहीं कोच्ची हवाई अड्डा को भी रविवार तक बंद रखा गया है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment